शादी का झांसा देकर की लाखों की ठगी #news4
June 2nd, 2022 | Post by :- | 93 Views

पांवटा साहिब : उपमंडल पांवटा साहिब में शादी का झांसा देकर लाखों की ठगी का मामला सामने आया है। पुलिस ने हरियाणा निवासी की शिकायत पर मामला दर्ज कर कारवाई शुरू कर दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ओम प्रकाश पुत्र मुलखराज निवासी गांधीनगर करनाल हरियाणा ने पांवटा साहिब पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायतकर्ता ने बताया कि उसके दो बेटे हैं। बड़े बेटे की शादी हो चुकी है जबकि छोटे बेटे कमल की शादी नहीं हुई। उसने बताया कि कमल की शादी के लिए वह लड़की की तलाश में था कि कुछ दिन पहले इसे करनाल से एक आदमी ने रेखा नामक महिला का मोबाइल नम्बर दिया और उस आदमी ने बताया कि यह महिला विकासनगर एटनबाग जिला देहरादून उत्तराखंड की रहने वाली है। तभी ओम प्रकाश ने उस महिला से टैलीफोन के माध्यम से संपर्क किया। महिला ने इसे बताया कि शादी करवाने के 1,00,000 रुपए लगेंगे। जिस पर यह सहमत हो गया। इसके बाद इसने अपने लड़के की फोटो इसको भेज दी और उस महिला ने इसको लड़की की फोटो मोबाइल पर भेज दी।

इसके बाद परिवार वालों ने फोटो देखकर रजामंदी से फोन पर सूचित किया कि लड़की ठीक है। उसके बाद इन्होंने शादी की तारीख 3 मई, 2022 को विश्वकर्मा मन्दिर  पांवटा साहिब में पंडित के कहने पर तय कर दी। जिस पर 3 मई को ओमप्रकाश का लड़का कमल व पवन, लड़की ऊषा कुमारी विश्वकर्मा मन्दिर पांवटा साहिब में आ गए। जबकि लड़की की तरफ से रेखा व उसकी सहेली सोनू और इनके साथी रवि, कार्तिक अग्रवाल, रेखा, कांता, प्रमिला, सोनू व दुल्हन रानिता विश्वकर्मा मन्दिर पांवटा साहिब पहुंच गए। जहां पर इन सभी की बातचीत होने के बाद इसके बेटे कमल की शादी दुल्हन रानिता से हो गई। शादी के बाद जैसे ही इसने रेखा को एक लाख रुपए दिए तो रेखा 11,000 रुपए मांग इनाम के तौर पर करने लगी। जिसकी मांग पर ओमप्रकाश ने अपने बेटे पवन कुमार के गुगल पे नम्बर से कार्तिक अग्रवाल के गूगल पे नम्बर पर कर दिए।

शादी की रस्म पूरी होने के बाद रेखा व कार्तिक अग्रवाल अपने स्कूटी पर बैठकर चले गए। उसके बाद रेखा की सहेली सोनू मन्दिर में ड्रामा करने लगी कि हमने दुल्हन के लिए कपड़े के सूट खरीदने हैं जिस पर इसका बेटा पवन कुमार, कमल कुमार, बेटी उषा रानी दुल्हन रानिता व सोनू गाड़ी में बैठकर मेन बाजार पांवटा साहिब में आ गए तथा गुरुद्वारा के सामने मेन बाजार पांवटा साहिब में उतर गए। वहां पर सोनू हमसे तू-तू व हल्ला करने लगी। जिस पर गिरोह की सदस्या प्रमिला व कांता भी अचानक हमारे पास आ गए उसी वक्त अचानक रवि अपनी कार लेकर हमारे पास स्पीड से पहुंच गया। रानिता व सोनू को गाड़ी में बिठाकर भाग गया। इनकी गिरोह की कांता व अन्य को इसने पकड़ लिया। जिसने उपरोक्त सभी लोगों के नाम बताए और कहने लगी आप चले जाओ यह दुल्हन को समझाकर आपके पास करनाल भेज देंगी।

3 मई को यह व इसका बेटा शर्म के मारे थाने में नहीं गए क्योंकि इन्हें अपनी बेइज्जती होने का डर लगा था। सोचा कि दुल्हन इनके पास आ जाएगी परन्तु कई दिन बीत जाने के बाद वो नहीं आई तो इन लोगों ने इन्हें फोन किया जो फोन बंद मिला। इसे लगा कि इन लोगों ने इसके साथ बहुत बड़ा धोखा किया। इसे बाद में जानकारी मिली है कि यह पेशेवर गैंग है जो शादी करवाने के नाम पर लोगों से लाखो रुपए ठगते हैं। पांवटा साहिब के डीएसपी वीर बहादुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि ओमप्रकाश की शिकायत पर पुलिस ने मामला धारा 420,120 में पंजीकृत थाना किया गया है। मामले में आगे की कारवाई अम्ल में लाई जा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।