मुख्यमंत्री ने वन अग्नि रोकथाम और नियन्त्रण जागरूकता वाहनों को हरी झंडी दिखा रवाना किया
March 12th, 2020 | Post by :- | 156 Views

इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जगंलों की आग से वन संपदा और वन्य जीवन को भारी नुकसान होता है इससे निपटने के प्रशासनिक और तकनीकी उपायों को अपनाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जगंलों में अधिकतर आग की घटनाएं मनुष्य की गलतियों के कारण होती हंै। आग की घटनाओं को नियन्त्रित करने के लिए आम लोगों और स्थानीय समुदायों की जन सहभागीता बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि वनों की आग से निपटने के लिए स्थानीय जनता कोे जागरूक करना आवश्यक है। लोगों को जंगलों की आग के विषय में जागरूक करने के लिए विभिन्न वन खंडों के पांच संवेदनशील क्षेत्रों में 20 मार्च, 2020 तक अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न भागों में आम लोगों को इस अभियान के अन्तर्गत प्रदर्शनी, वार्ता और नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से वनों को आग से बचाने और नियन्त्रित करने लिए प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने लोगों से इस अभियान को सफल बनाने के लिए पूर्ण सहयोग देने का आग्रह किया ताकि प्रदेश की बहुमूल्य वन संपदा को आग से बचाया जा सके। वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर, प्रधान मुख्य अरण्यपाल (वन) अजय कुमार, प्रधान मुख्य अरण्यपाल (वन्य जीव) डाॅ. सविता और विभाग के अन्य अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।