मुख्यमंत्री ने सिराज विधानसभा क्षेत्र में किया प्रदेश की सबसे बड़ी जलापूर्ति योजना का शिलान्यास
March 6th, 2019 | Post by :- | 112 Views

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज 215 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले सिराज और गोहर खण्ड़ों के लिए लंबाथाच में प्रदेश की सबसे बड़ी जलापूर्ति परियोजना की आधारशिला रखी। इस परियोजना के अंतर्गत सिराज विधानसभा क्षेत्र की 58 में से 33 पंचायतों के हजारों लोगों को पेयजल सुविधा प्राप्त होगी।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर थुनाग में सिराज विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के महा सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस महत्वाकांक्षी परियोजना के माध्यम से 1100 किलोमीटर लम्बी पाइप लाईन बिछाई जाएगी और अतिरिक्त घरों को पेयजल की सुविधा सुनिश्चित की जाएगी। इस परियोजना के कार्य के पूर्ण होने पर 163 गांवों तथा 1135 बस्तियों के हजारों लोगों को लाभ प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के लिए छड़ी, बाखली, छतरी तथा थानेसर खड्डों से जल उठाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य के समान विकास के लिए हर क्षेत्र को अधिमान दिया गया है। पिछले एक वर्ष में प्रदेश भर में करोड़ों की लागत से बनने वाली विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण एवं आधाशिलाएं रखी गई हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की तीव्र प्रगति के लिए राज्य सरकार ने कर्मचारियों के साथ सौहार्दपूर्ण सम्बन्ध स्थापित किए हैं। सरकार ने पीटीए शिक्षकों के मानदेय को नियमित अध्यापकों के वेतन के बराबर किया। इससे उन्हें अन्य श्रेणियों के कर्मचारियों की तरह राहत मिली है। उन्होंने कहा कि अन्य श्रेणियों के कर्मचारियों को भी शीघ्र राहत प्रदान करने के प्रयास किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार राज्य के लोगों को उत्तरदायी एवं पारदर्शी प्रशासन उपलब्ध करवा रही है। केन्द्र सरकार के साथ प्रभावी समन्वय के कारण राज्य में विकास कार्यों को बढ़ावा मिला है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गतिशील नेतृत्व के चलते भारत विश्व शक्ति के रूप में उभरा है। उन्होंने कहा कि पुलवामा में भारतीय सैनिकों पर हुए आतंकी हमले के बाद सेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में आंतकी शिवरों पर की गई एयर स्ट्राइक के सम्बन्ध में विपक्षी नेताओं द्वारा सबूत मांगना दुर्भाग्यपूर्ण है।

इस अवसर पर सिराज विधानसभा क्षेत्र के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए मुख्यमंत्री को 5,55,555 रुपये का चैक भेंट किया।

इस अवसर पर सिराज विधानसभा क्षेत्र के हजारों कांग्रेस नेता लंबाथाच तथा थुनाग में मुख्यमंत्री की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए तथा मुख्यमंत्री ने भाजपा में शामिल होने वाले इन नेताओं को विश्वास दिलाया कि उन्हें पार्टी में उचित सम्मान मिलेगा।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने हि.प्र. बागवानी विकास परियोजना के अंतर्गत 1.33 लाख रुपये की लागत से जंजैहली विकास खण्ड के सुनाह बताहर में बनने वाली बहाव सिंचाई योजना की आधारशिला रखी। उन्होंने वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला निहारी सुनाह में 3.76 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले अतिरिक्त भवन की भी आधारशिला रखी।

उन्होंने ग्राम पंचायत कंडा के बीजाही में 7.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले ग्रामीण आजीविका केन्द्र सिराज की आधारशिला भी रखी तथा 1.56 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित बखाली खड्ड पर बने छड़ी पुल का लोकार्पण किया।

जय राम ठाकुर ने लंबाथाच में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षण कुटीर तथा थुनाग में रेशम बीज उत्पादन केन्द्र खोलने की घोषणा की।

सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री महेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रदेश मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व पर प्रगति व समृद्धि की राह पर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने सभी मंत्रिमण्डल के सहयोगियों को प्रदेश के लिए केन्द्र प्रायोजित योजना के सम्बन्धित मामलों को उठाने के निर्देश दिए हैं ताकि विकास में और तेजी लाई जा सके। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश के लिए 4751 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी सिंचाई परियोजना स्वीकृति की है ताकि अधिक से अधिक खेतों को सिंचाई सुविधा के अंतर्गत लाकर वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना किया जा सके।

सांसद राम स्वरूप शर्मा ने कहा कि सरकार की नीतियों व कार्यक्रमों के प्रभावी कार्यान्वयन में कर्मचारियों की अहम भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने गत् एक वर्ष के दौरान कर्मचारियों को करोड़ो रुपये के वित्तीय लाभ प्रदान किए हैं।

कर्मचारी नेता केसर ठाकुर तथा कमल राणा ने इस अवसर पर कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं को मुख्यमंत्री के सामने रखा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।