चाइल्ड लाइन ने रुकवाए 10 बाल विवाह
July 31st, 2019 | Post by :- | 127 Views

मंडी, 31 जुलाई : चाइल्ड लाइन मंडी पिछले 6 महीनों में जिले में 10 बाल विवाह रुकवाने में कामयाब रही है। चाइल्ड लाइन हैल्पलाईन नंबर 1098 पर मिली सूचना पर इन मामलों में तुरंत कार्रवाई करते हुए नाबालिग जिंदगियों को बचाया गया है। इनमें ज्यादातर मामले मंडी सदर और बल्ह क्षेत्र के हैं।

उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने बुधवार को जिला बाल संरक्षण समिति और बाल कल्याण समिति की बैठक के उपरांत यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा बाल विवाह कानूनी अपराध है। इसे लेकर लोगों में जागरूकता लाने के लिए अतिरिक्त प्रयासों की जरूरत है। जिला प्रशासन इसे स्त्री अभियान से जोड़कर जनजागरूकता लाने के लिए व्यापक मुहिम छेड़ेगा। उन्होंने सभी आंगनबाड़ियों में चाइल्ड लाइन का हैल्पलाईन नंबर 1098 दर्शाने के निर्देश दिए। विभिन्न महत्वपूर्ण संस्थानों में पहले से ही हैल्पलाईन नंबर दर्शया जा चुका है।

बाल विवाह अपराध
दो साल की जेल और 1 लाख रुपए जुर्माने का है प्रावधान

शादी के लिए लड़के की उम्र 21 साल और लड़की की उम्र 18 साल होनी चाहिए। इससे कम उम्र में शादी अपराध की श्रेणी में आती है। बाल विवाह के मामले में दो साल की जेल और 1 लाख रुपए जुर्माने का प्रावधान है।

बाल मजदूरी और भिक्षावृत्ति से छुड़ाए बच्चों की शिक्षा पर जोर

इसके अलावा आशुतोष गर्ग ने बाल मजदूरी और भिक्षावृत्ति से छुड़ाए गए बच्चों की शिक्षा की ठीक व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने ऐसे बच्चों के स्कूलों में दाखिले की व्यवस्था पर ध्यान देने को कहा। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इन बच्चों के समय पूर्व स्कूल छोड़ने के मामलों को प्रशासन के ध्यान में लाएं।
बाल बालिका सुरक्षा योजना के तहत जिला के 146 बच्चों को लाभ पहुंुचाया गया है। योजना के तहत अनाथ, असहाय बाल-बालिकाओं केपालन पोषण के लगभग 20 लाख रुपए व्यय किए गए हैं । जिला में बाल कल्याण समिति 7 बाल गृह और एक बालिका गृह संचालित कर रही है, जिनमें 384 बच्चों का पालन पोषण किया जा रहा है।
जिला बाल संरक्षण अधिकारी डी.सी. नायक ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।
इस अवसर पर जिला परिषद अध्यक्ष सरला ठाकुर, समिति सदस्य रीटा ठाकुर, भूपेन्द्र कुमारी व वीना देवी, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरेन्द्र तेगटा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश कुमार, कार्यकारी अधिकारी नगरपरिषद राम सिंह, सचिव रैडक्रॉस ओ.पी. भाटिया, चाइल्ड लाइन के पदाधिकारियों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।