हिमाचल: कामगारों के बच्चों को पीएचडी करने के लिए मिलेंगे 1.20 लाख #news4
February 20th, 2022 | Post by :- | 220 Views

हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष डॉ. राकेश शर्मा बबली ने कहा कि सरकार ने कामगारों के कल्याण के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। बोर्ड के पास पंजीकृत मजदूरों के बच्चों को पहली कक्षा से पीएचडी तक पढ़ाई करने का प्रबंध किया गया है। देशभर में ऐसा अभी तक किसी भी बोर्ड ने नहीं किया है।

बद्दी पहुंचे डॉ. राकेश बबली शर्मा ने बताया कि उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालने के बाद उन्होंने कामगारों के हित के लिए एक दर्जन से ज्यादा योजनाएं मुख्यमंत्री के समक्ष रखी थीं। इनकी मंजूरी सरकार ने कैबिनेट में दी है। जल्द एक दर्जन से ज्यादा और योजनाएं बनाकर सरकार के समक्ष रखी जाएंगी।

डॉ. राकेश शर्मा बबली ने कहा कि कामगार कल्याण बोर्ड के पास पंजीकृत होने के लिए किसी भी कामगार को 90 दिन कार्य करने का प्रमाण पत्र अनिवार्य है। इसके बाद संबंधित मजदूर बोर्ड की वेबसाइट पर पंजीकरण करवा सकता है। पंजीकृत मजदूर को 15 तरह की सुविधाएं मिलेंगी इसके तहत मजदूर के बच्चे को पीएचडी की पढ़ाई के लिए एक लाख बीस हजार, दो बच्चों की शादी के लिए 51- 51 हजार, विकलांगता पेंशन के अलावा बेटी के जन्म पर उसके नाम पर 51 हजार रुपये की एफडी करवाई जा रही है।

मजदूर के बच्चे को पढ़ाई के दौरान हॉस्टल खर्च के रूप में भी 20 हजार अतिरिक्त दिए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भी बोर्ड एक लाख पचास हजार रुपये पात्र व्यक्ति को दिए जाएंगे। आर्य समाज के उपाध्यक्ष दीप आर्य,  दीनदयाल अंतोदय समिति बड़सर के सदस्य नरेंद्र मिंटू वर्मा और दिनेश ठाकुर उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।