सीआइएसएफ की फायर विग अग्नि सुरक्षा व्यवस्था में श्रेष्ठ इकाई : एनएस ठाकुर #news4
April 14th, 2022 | Post by :- | 126 Views

बिलासपुर : एनटीपीसी कोलडैम में वीरवार को परियोजना की सुरक्षा कर रही देश की अव्वल सुरक्षा बल सीआइएसएफ ने 14 से 20 अप्रैल तक पूरे भारत में मनाए जाने वाले अग्निशमन सप्ताह का शुभारंभ किया। इसमें एनटीपीसी कोलडैम परियोजना के महाप्रबंधक नंदन सिंह ठाकुर ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। जबकि उनके साथ जीएम ओएंडएम लव टंडन उपस्थित रहे। कोलडैम यूनिट के फायर विग प्रमुख मनीष कुमार सारस्वत ने मुख्य अतिथि व सीआइएसएफ कोलडैम इकाई के डिप्टी कमांडेंट राजकुमार ठाकुर का स्वागत किया एवं सभी ने शहीदों को माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस मौके पर शहीदों की याद में दो मिनट का मौन रखा गया। कोलडैम यूनिट के डिप्टी कमांडेंट राजकुमार ठाकुर ने इस दौरान सभी का स्वागत करते हुए कहा कि इस राष्ट्रीय अग्निशमन सप्ताह को बतौर निगरानी सप्ताह मनाएं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष का थीम अग्नि सुरक्षा सीखें, उत्पादकता बढ़ाएं को प्रेरणा के रूप में लें। इसके उपरांत जीएम ओएंडएम लव टंडन ने सभी को आगजनी से सुरक्षा को अपनाने की शपथ भी दिलाई।

इस मौके पर मुख्यातिथि परियोजना प्रभारी नंदन सिंह ठाकुर ने राष्ट्रीय अग्निशमन सप्ताह पर जिक्र करते हुए कहा कि जब विक्टोरिया डाक बंबई में सेना की विस्फोटक सामग्री से भरा समुद्री जहाज में आग लग गई थी तो उस पर नियंत्रण करते 66 अग्निशमन कर्मी शहीद हुए थे। आज उन शहीदों को नमन करते हुए अग्नि सुरक्षा नियमों का पालन करने का प्रण लें।

उन्होंने सीआइएसएफ की तारीफ करते हुए कहा कि सर्विस क्वालिटी में सीआइएसएफ की सुरक्षा व्यवस्था सर्वोत्तम है।

इसके उपरांत मुख्यातिथि व डीसी राजकुमार ठाकुर ने आग से बचाव ही सबसे अच्छी सुरक्षा है, को लेकर पर्चे भी वितरित किए। सीआइएसएफ कोलडैम यूनिट के फायरविग प्रमुख मनीष कुमार सारस्वत ने भी जवानों व उपस्थित गणमान्य को इस वर्ष की फायर थीम अग्नि सुरक्षा सीखें, उत्पादकता बढ़ाएं पर जानकारी दी।

इस अवसर पर एनटीपीसी के एजीएम सुरेंद्र गर्ग, सीएमओ डा. राजेश बिश्नोई, करनैल सिंह, परशुराम राठौर, कृष्ण कुमार, मनोज कुमार, बीडी गुप्ता, एके राणा, राजेश थिआरा के अलावा अन्य सुरक्षा बल के नौजवान मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।