करसोग में प्रतिबंधित दवाइयां मिलने पर क्लीनिक सील, झोलाछाप डॉक्टर गिरफ्तार #news4
March 22nd, 2022 | Post by :- | 247 Views

करसोग : जिला मंडी के उपमंडल करसोग में पुलिस ने झोलाछाप डॉक्टरों पर शिकंजा कस दिया है। यहां सोमवार को डीएसपी गीताजंलि ठाकुर की अगुआई में भंथल में एक स्थानीय झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में छापेमारी की गई। तलाशी के दौरान पुलिस के हाथ प्रतिबंधित  दवाइयों की खेप लगी है। यही नहीं, झोलाछाप डॉक्टर के पास न तो दवाइयां बेचने का लाइसैंस था और न ही कोई डिग्री थी, ऐसे में लंबे समय से झोलाछाप डॉक्टर बिना किसी डिग्री के लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहा था।

पुलिस ने प्रतिबंधित दवाइयों को कब्जे में लेकर क्लीनिक को भी सील कर दिया है। पुलिस ने करसोग में बढ़ते नशीली दवाइयों के कारोबार को लेकर मिल रही शिकायत पर ये कार्रवाई की है, ऐसे में प्रतिबंधित दवाइयां बेचने और बिना डिग्री के लोगों का इलाज करने के जुर्म में पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट सहित आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया है, जिसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। डीएसपी गीताजंलि ठाकुर ने बताया कि आरोपी का रिमांड लेने पर दवाइयां कहां से आ रही है, इसकी जानकारी भी जुटाई जाएगी।

बता दें कि इससे पूर्व में भी पुलिस ने उपमंडल के तहत सेरी बंगलों में भी झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में दबिश दी थी। जहां एक फर्जी डॉक्टर इलाज के नाम पर भोलेभाले ग्रामीणों को लूट रहा था। इस जुर्म में पुलिस पहले ही आरोपी को हिरासत में ले चुकी है। डीएसपी के नेतृत्व में लगातार जारी इस कार्रवाई से झोलाछाप डॉक्टरों में हड़कंप मच गया है। पुलिस ने लोगों से भी इस तरह के फर्जी डॉक्टरों के चंगुल में न फंसने की भी अपील की है। स्थानीय जनता भी नशे खिलाफ जारी करसोग पुलिस के इस अभियान की सराहना कर रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।