CM जयराम ने की ‘समान नागरिक संहिता’ की सराहना, जानें क्या है कानून-जिसे प्रदेश में लाने की कोशिश में है सरकार #news4
April 25th, 2022 | Post by :- | 66 Views

शिमला: प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर केंद्रीय मंत्री अमित शाह से बातचीत करेंगे। राज्यों के हितों से साथ जुड़े मसलों का समाधान करेंगे। मुख्यमंत्री ने नई दिल्ली स्थित हिमाचल भवन में मीडिया का शुभारंभ करेगें। उन्हेंने इस मौके पर मीडिया पर बातचीत करते हुए कहा कि नागरिक संहिता एक अच्छा कदम है। बातचीत दौरान इसे प्रदेश में लागू किया जाएगा। जयराम ने  अरविंद केजरीवाल पर जुबानी हमला बोला है। अरविंद केजरीवाल शांति से बात नहीं कर रहे है। हिमाचल प्रदेश में हमने बदले की भावना से काम करने नाले रिवाज को खत्म कर दिया है। CM केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मिलेंगे। उनसे राज्य के हितों में भी जानकारी प्राप्त करेंगे। पुलिस बल के सुदृढ़ीकरण और अन्य मामलों पर मदद मांग सकते हैं। जयराम केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीता रमण और अन्य केंद्रीय मंत्रियों से भी भेंट कर सकते हैं।

क्या है ‘समान नागरिक संहिता कानून’ ?
‘समान नागरिक संहिता कानून’ को अगर आसान शब्दों में समझे तो इसका मतलब होगा कि भारत में रहने वाले हर नागरिक के लिए एक समान कानून का होना। फिर चाहे वो शक्स किसी भी धर्म या जाति से हो। समान नागरिक संहिता कानून में जमीन-जायदाद के बंटवारे, शादी और तलाक में सभी धर्मों के लिए एक ही कानून लागू होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।