कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे सीएमओ 40 दिन से नहीं गए घर
April 20th, 2020 | Post by :- | 78 Views

बेटा यूरोप में है है, पत्नी आईजीएमसी में सेवाएं दे रही है और माता धर्मशाला में बेटे के आने की राह देख रही है। इन परिस्थितियों के बीच चंबा जिला के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश गुलेरी कोरोना महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। वह पिछले 40 दिनों से परिवार से नहीं मिले हैं। उनके चेहरे पर मायूसी की बजाय चेहरे पर कोरोना को हराने का जब्जा दिखाई देता है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश गुलेरी रात को जब भी समय मिलता है तो वह 80 साल की अपनी माता से फोन पर बात कर लेते हैं। जब माता घर आने के बारे में पूछती हैं तो उनका यही जवाब होता है कि कोरोना महामारी को खत्म कर जल्दी घर लौटेंगे। इसी तरह समय निकालकर यूरोप में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे बेटे और आईजीएमसी शिमला में सेवाएं दे रहीं पत्नी से भी बात करते हैं। पूरा परिवार स्वास्थ्य विभाग में सेवाएं देने को तैयार है। डॉ. राजेश गुलेरी चंबा में कोरोना महामारी को लेकर पल-पल की नजर रखे हुए हैं।

जिले में संदिग्ध लोगों के सैंपल लेने के साथ क्वारंटीन में रखे लोगों के सैंपल लेने को लेकर पूरी व्यवस्था को स्वयं देख रहे हैं। इसके अलावा कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए लोगों का भी रिकॉर्ड खंगाल कर उनके सैंपल लेने की भी व्यवस्था स्वयं देख रहे हैं। डॉक्टरों की टीमें उनके दिशा-निर्देशानुसार ही कोरोना महामारी की लड़ाई में कार्य कर रही हैं। डॉक्टरों व स्टाफ की सुरक्षा को लेकर भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी चिंतित रहते हैं। उनके कार्य की शासन व प्रशासन सभी तारीफ कर रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।