बिलासपुर: विजिलेंस के पास पहुंची स्कूलों के लिए सामान की खरीद-फरोख्त को लेकर शिकायत #news4
November 29th, 2021 | Post by :- | 123 Views

कोरोना काल में स्कूलों के सामान की खरीद-फरोख्त में हुई गड़बड़ी को लेकर अज्ञात व्यक्ति का शिकायती पत्र विजिलेंस ब्यूरो के पास पहुंच गया है। इस पत्र में जिला बिलासपुर के प्रारंभिक शिक्षा उप निदेशक और डाइट प्रधानाचार्य पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इसकी शिक्षा मंत्री को भी भेजी गई है। विजिलेंस के अधिकारियों का कहना है कि उनके पास शिकायत पहुंची है। एजेंसी गुमनाम शिकायतकर्ता का पता लगा रही है। आरोपों की भी जांच की जाएगी। 25 नवंबर को अज्ञात व्यक्ति ने यह पत्र लिखा है। आरोप लगाया है कि शिक्षा विभाग में चल रहे विभिन्न प्रोजेक्टों पर लाखों रुपये का दुरुपयोग किया गया है। लिखा है कि दोनों अधिकारियों ने फर्मों को लाखों रुपये देकर बिना टेंडर प्रक्रिया के कार्य किया है। सरकार के नियमानुसार 25 हजार से ऊपर की खरीद में टेंडर होना अनिवार्य है। इस पर उचित कार्रवाई होनी चाहिए। बिलासपुर जिले में शिक्षा के पैसे को लेकर भ्रष्टाचार बड़े सुनियोजित ढंग से किया जा रहा है।

आरोप है कि उपनिदेशक ने लेन-देन ज्यादातर मंडी की फर्म से किया है। उन्हीं फर्मों से सामान लेने के लिए स्कूलों के मुखिया को बाध्य किया जाता है। कुछ समय पहले स्कूलों में अग्निशमन सिलिंडर रिफिल करवाने का कार्य 1100 से 1200 रुपये में मंडी की फर्म को देने के स्कूलों को निर्देश दिए गए, जबकि उक्त सिलिंडर 600 रुपये में भरा जा सकता था। प्री प्राइमरी स्कूलों के सामान में चहेती फर्मों को बिना टेंडर और जैम (सरकारी पोर्टल) को नजरअंदाज कर लाखों का घोटाला किया गया। पत्र में और भी कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं। उधर, डीएसपी विजिलेंस संजय ने कहा कि उनके पास गुमनाम पत्र से शिकायत पहुंची है। शिकायतकर्ता का पता लगाया जा रहा है। शिकायतकर्ता के सामने आने और एसपी विजिलेंस के आदेशों के अनुसार आगे की कार्रवाई होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।