तीसा व सलूणी की 16 पंचायतें सील, आवाजाही पर पूर्ण रोक
April 7th, 2020 | Post by :- | 210 Views

जिला चंबा के उपमंडल तीसा में चार जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए, जिस पर प्रशासन द्वारा तीसा की नौ पंचायतों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। ये पंचायतें तब तक सील रहेंगी, जब तक कि प्रशासन की ओर से आगामी आदेश जारी नहीं किए जाते हैं। इसके साथ ही एहतियात के तौर पर सलूणी की सात पंचायतों को भी सील कर दिया गया है।

उक्त चारों जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के उपरांत उन्हें नेरचौक मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। मंगलवार सुबह कोरोना पॉजिटिव पाए गए जमातियों को तीसा से नेरचौक ले जाने के लिए चंबा से एंबुलेंस भेजी गई। संक्रमितों को एंबुलेंस में ले जाने से आधा घंटा पहले स्वास्थ्य कर्मियों ने व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट पहनी, ताकि उक्त व्यक्तियों के संपर्क में आने से उन्हें किसी प्रकार का कोई नुकसान न हो सके।

गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी मरकज जमात से तीसा लौटे 11 जमातियों के स्वास्थ्य विभाग द्वारा सैंपल लिए गए थे। उन्हें जांच के लिए मेडिकल कॉलेज टांडा भेजा गया था। टांडा से चार जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट है। 11 में से सात व्यक्तियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। उपमंडल तीसा में ग्राम पंचायत भंजराड़ू, तीसा-एक, तीसा-दो, गडफरी, खजुआ, जुंगरा, लेसवीं, खुशनगरी व थल्ली हैं। इन पंचायतों में सभी प्रकार की गतिविधियों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है। मंगलवार को उक्त सभी पंचायतों में राशन व सब्जी की दुकानें नहीं खुलीं।

वहीं, उपमंडल सलूणी की सात पंचायतों को भी सील कर दिया गया है। ये पंचायतें डियूर, कंधवारा, डांड, किहार, भांदल, स्नूह तथा किलोड़ हैं। उपमंडल सलूणी की सीमाएं भी उपमंडल चुराह से लगती हैं तथा लंगेरा-हिमगिरी-भंजराड़ू तथा सलूणी-बरोटी-नकरोड़ आदि सड़कें भी उपमंडल सलूणी को तीसा से जोड़ती हैं। उक्त सड़कों के माध्यम से दोनों उपमंडलों के लोगों की आवाजाही लगी रहती है। उपमंडल सलूणी प्रशासन के अनुसार यह मामला भी प्रशासन के संज्ञान में आया है कि सलूणी उपमंडल के कुछ स्थानीय लोगों ने भी निजामुद्दीन मरकज जमात के आयोजन सम्मेलन में भाग लिया था। इन्हीं तथ्यों को ध्यान में रखते हुए जिला दंडाधिकारी चंबा ने उपमंडल सलूणी की सात पंचायतों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए सील करने का फैसला लिया गया है।

उधर, एसडीएम सलूणी विजय कुमार का कहना है कि उक्त पंचायतों को संपूर्ण लॉकडाउन करने के आदेश प्राप्त हुए हैं। पंचायतों में किसी प्रकार की गाड़ियों व व्यक्तियों की आवाजाही भी प्रतिबंधित की गई है। इसके साथ ही रियायत के समय में इन पंचायतों के व्यापारियों, स्थानीय नागरिकों को गाड़ियों के संबंध में जो पास जारी किए गए थे, उन सभी की वैधता तुरंत प्रभाव से खत्म की जाती है। यदि कोई भी व्यक्ति नियमों का उल्लंघन करता हुआ पाया जाता है तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

 

कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद चारों जमातियों को नेरचौक मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। इसके अलावा जिन सात जमातियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है उन्हें तीसा स्थित क्वारंटाइन केंद्र में ही रखा गया है। लोगों से अपील है कि वे घरों में ही रहें तथा शारीरिक दूरी का पालन करें।

-डॉ. राजेश गुलेरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी चंबा

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।