किसी भी काम में एक्सपर्ट होना चाहते हैं तो एकाग्रता जरूरी है
June 21st, 2019 | Post by :- | 182 Views

हम किसी भी काम में एक्सपर्ट होना चाहते हैं तो हमें अपनी एकाग्रता बढ़ानी होगी। एकाग्रता के साथ किए गए हर काम में सफलता मिलने संभावनाएं बढ़ जाती हैं। शरीर में ऊर्जा का संचय तभी होता है, जब शरीर को ऊर्जा बढ़ाने का समय मिलता है। ध्यान करने से शरीर को मानसिक और शारीरिक ऊर्जा इकठ्ठा करने का समय मिलता है। ध्यान से ही एकाग्रता बढ़ती है। एकाग्रता किसी भी काम में परफेक्ट होने की पहली सीढ़ी है। मन को एकाग्र किए बिना कोई भी उपलब्धि हासिल नहीं की जा सकती है।

जब तक हम मन को एकाग्र करना नहीं करते हैं, तब तक मन हमें कुछ और नहीं सिखने देता है। इसीलिए सबसे जरूरी है, अपने मन पर काबू करना। कोई भी काम करते समय एकाग्रता बनाए रखनी चाहिए। एकाग्रता से तीन फायदे मिलते हैं…

पहला- शक्ति उत्पन्न होती है।
दूसरा- धैर्य जागता है।
तीसरा- शक्ति और धैर्य के परिणाम में हम साहसी हो जाते हैं।


एकाग्रता के इन फायदों से हमें सभी कामों में सफलता मिल सकती है। भक्ति में एकाग्रता बनाए रखने से भगवान की कृपा जल्दी मिलती है। इतिहास गवाह है कि जो-जो लोग भी खूब सफल हुए हैं, वे अपने कार्य के प्रति एकाग्र चित्त रहे हैं। एकाग्र चित्त होने का अभ्यास रोज नियमित रूप से करना होगा। इसका सीधा सा तरीका यह है कि कोई भी काम शुरू करने के पहले बेकार विचार और गतिविधियों का त्याग कर देना चाहिए।

 संकल्प करें कि जो भी कुछ करना है, सोचना है, मिलना-जुलना है, वह काम पूरा होने के बाद ही होगा। इस समय जो कर रहे हैं, बस वही करना है। यह दृढ़ता धीरे-धीरे एकाग्र चित्त बना देगी। हम जितने एकाग्र चित्त होंगे, उतने ही जागृत रहेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।