नाहन में कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह भारत जोड़ो सद्भावना सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को देंगी चुनावी टिप्स #news4
June 9th, 2022 | Post by :- | 77 Views

नाहन : जिला सिरमौर को 1998 तक कांग्रेस का गढ़ कहा जाता था। एक बार फिर दोबारा से सिरमौर को कांग्रेस का गढ़ बनाने के लिए मंडी की सांसद एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा वीरभद्र सिंह रविवार को जिला सिरमौर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर चुनावी टिप्स देंगी। प्रतिभा सिंह कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार रविवार को जिला सिरमौर मुख्यालय नाहन के समीप सैनवाला के एक निजी रिसोर्ट में जिला के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर उन्हें चुनावी टिप्स देंगी। भारत जोड़ो सद्भावना सम्मेलन में मुख्य अतिथि प्रतिभा सिंह होगी। जबकि उनके साथ विशिष्ट अतिथि के तौर पर इमरान प्रतापगढ़ी राष्ट्रीय अध्यक्ष माइनारिटी सेल कांग्रेस तथा तेजिंदर बिट्टू राष्ट्रीय सचिव एवं हिमाचल प्रदेश कांग्रेस सहप्रभारी विशिष्ट अतिथि के तौर पर शामिल होंगे।

जबकि सह विशिष्ट अतिथि में श्रीरेणुकाजी के विधायक एवं हिमाचल कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष विनय कुमार व शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य होंगे। प्रतिभा सिंह जिला सिरमौर में गुटों में बंट चुकी कांग्रेस को जहां एकजुट करेंगे। वहीं जिला सिरमौर की पांचों विस सीटों को दोबारा से कांग्रेस की झोली में डालने के लिए कार्यकर्ताओं को टिप्स भी देंगे। कांग्रेस के माइनॉरिटी सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी नाहन विधानसभा क्षेत्र में अल्पसंख्यक आबादी कहीं जाने वाले मुस्लिम समुदाय के वोटरों को रिझाने का पूरा प्रयास करेंगे। क्योंकि एक समय तक मुस्लिम समुदाय सारा का सारा कांग्रेस के साथ हुआ करता था। मगर नाहन के विधायक डॉ राजीव बिंदल ने मुस्लिम समुदाय में भी अपनी काफी अच्छी पकड़ बना रखी है। जिसके चलते मुस्लिम समुदाय आधा-आधा कांग्रेस तथा भाजपा में बटा हुआ है। अब देखना है कि माइनॉरिटी सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी मुस्लिम समुदाय के कितने लोगों को कांग्रेस के साथ जोड़ पाते हैं। जिला सिरमौर के नाहन तथा पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में एक बड़ा तबका मुस्लिम आबादी का है। नाहन व पांवटा विधानसभा क्षेत्र में मुस्लिम समुदाय के लोग प्रत्याशी की हार जीत का फैसला करते हैं। वही प्रतिभा सिंह काफी समय से कांग्रेस से छीन चुके विधानसभा क्षेत्र पच्छाद, नाहन व पावटा में दोबारा से कांग्रेस को लाने के लिए वहां के कार्यकर्ताओं से विशेष बातचीत भी करेंगे। बता दें कि जिला सिरमौर के 5 विधानसभा क्षेत्रों में से वर्तमान में नाहन, पांवटा साहिब व पच्छाद में भाजपा के विधायक हैं। जबकि कांग्रेस के पास श्रीरेणुकाजी व शिलाई विधानसभा क्षेत्र से विधायक है। जिला सिरमौर कांग्रेस ने सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह के एक दिवसीय सिरमोर दौरे को सफल बनाने के लिए लगातार बैठकों का दौर जारी है। अब देखना है कि एक दिवसीय भारत जोड़ो सद्भावना सम्मेलन में जिला सिरमौर कांग्रेस कितनी भीड़ जुटा पाती है। किस विधानसभा क्षेत्र से कौन सा कांग्रेस नेता अपने साथ कितने कार्यकर्ताओं को लाता है। उसी से आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति भी तय होगी। क्योंकि नाहन, पच्छाद व पांवटा विधानसभा क्षेत्र में भाजपा विधायक होने के नाते कांग्रेस में यहां टिकट के तलबगारों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। उधर जिला सिरमौर सोशल मीडिया के जिला अध्यक्ष मौनी ठाकुर ने बताया कि भारत जोड़ो सद्भावना सम्मेलन को सफल बनाने के लिए कांग्रेस कमेटी पूरी तरह से तैयार है।

बॉक्स : सद्भावना सम्मेलन के निमंत्रण पत्र से दो गुटों में बंटी कांग्रेस

रविवार को नाहन के सैनवाला में आयोजित होने वाले भारत जोड़ो सद्भावना सम्मेलन में जो निमंत्रण पत्र कांग्रेस कमेटी की ओर से बनाया गया है। उसमें शिलाई विधानसभा क्षेत्र के 5 बार के विधायक हर्षवर्धन चौहान तथा पच्छाद विधानसभा क्षेत्र से 7 बार पूर्व विधायक तथा पूर्व मंत्री गंगूराम मुसाफिर का नाम नहीं है। जिसके चलते शिलाई विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर कई टिप्पणियां की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।