पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाने का फैसला वापस न लिया तो सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस
September 28th, 2019 | Post by :- | 207 Views

एक तरफ भारत की अर्थव्यवस्था की हालत दिन प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है, जिसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर दिख रहा है। सब्जी के दामों के फेर में उलझे आम आदमी पर प्रदेश सरकार डीजल और पेट्रोल के दामों में वैट की दरें बढ़ाकर और बोझ लादने की तैयारी कर रही है। इस संबंध में पिछली कैबिनेट बैठक में निर्णय लिया गया है। यह बात जिला कांग्रेस कमेटी ऊना के अध्यक्ष राजेश पराशर, महासिचव ओमकार कपिला, प्रवीण शर्मा, दीपक, देशराज गौतम, विवेक मिंका, राणा यशपाल, पंडित राम लुभाया, लखनपाल व राजन जसवाल ने कही। उन्होंने कहा कि महंगाई की मार झेल रहे आम लोगों और मंदी की मार झेल रहे कारोबार जगत पर ऐसे हालात में यह फैसला बिल्कुल तर्कसंगत नहीं है। जिसका कांग्रेस पार्टी विरोध करती है। उन्होंने कहा कि सरकार एक तरफ तो विधायकों के भत्ते बढ़ा रही है और दूसरी तरफ आम जनता पर टैक्स बढ़ाकर आर्थिक बोझ बढ़ाने जा रही है, सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के अंदर डीजल व पेट्रोल के दामों में दो से ढाई रुपए की भारी बढ़ोतरी हो जाएगी। उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि जल्द ही प्रदेश सरकार ने डीजल व पेट्रोल पर वैट बढ़ाने के फैसले को रोल बैक न किया तो कांग्रेस इस मुद्दे को जनांदोलन बनाते हुए सड़कों पर उतरने से भी गुरेज नहीं करेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।