अगले साल से शुरू हाेगा हिमाचल में 2 ग्रीन नेशनल हाईवे बनाने का काम
November 22nd, 2019 | Post by :- | 186 Views

हिमाचल में प्रस्तावित ग्रीन नेशनल हाइवे दाे नेशनल हाइवे बनाने का काम शुरू हाे गया है। पाैंटा-गुम्मा-फैडिज पुल अाैर हमीरपुर मंडी वाया सरकाघाट काे डबल लेन बनाया जाना प्रस्तावित है।

केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद राज्य लाेक निर्माण विभाग के नेशनल हाइवे विंग ने इसके लिए फाॅरेस्ट अाैर एन्वायर्नमेंट केस बनाने का काम शुरू कर दिया है। दिसंबर महीने में इस काम काे पूरा कर दिया जाएगा।

उसके बाद इसे मंजूरी के लिए मंत्रालय भेजा जाएगा। विभाग के मुताबिक अगले साल जनवरी महीने से जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हाे जाएगी। मार्च के बाद दाेनाें ही नेशनल हाइवे का निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा।

हमीरपुर मंडी वाया सरकाघाट की दूरी अभी 125 किलोमीटर है। डबल लेन हाेने से इसकी दूरी 15 किलोमीटर कम हाे जाएगी। यह एनएच 110 किलोमीटर का हाेगा। इसी तरह पाैंटा गुम्मा फैडिजपुल की दूरी 116 किलोमीटर के करीब है।

यह 106 किलोमीटर हाे जाएगी। दाेनाें ही ग्रीन नेशनल हाइवे के लिए विश्व बैंक ने 2690 कराेड़ का बजट मंजूर किया है। वर्ष 2010 से ये दाेनाें प्राेजेक्ट प्रस्तावित हैं। राज्य सरकार ने इस मामले काे लगातार केंद्र के समक्ष उठा रही थी।

क्या है ग्रीन नेशनल हाइवे: राज्य लाेक निर्माण विभाग के मुताबिक इन दाेनाें नेशनल हाइवे काे ग्रीन हाइवे का नाम दिया गया है। इसका निर्माण इस तरह से किया जाएगा ताकि पर्यावरण काे कम नुकसान हाे। कटिंग के दाैरान पेड़ कम काटे जाएं, ज्यादा डंगे लगे ताकि कटिंग की जरूरत न पड़े। जहां पर कटिंग की जाए वहां पर रिटेनिंग वाॅल लगाई जाएगी ताकि ज्यादा नुकसान न हाे। सड़क की टारिंग में भी ग्रीन टेक्नालॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा। प्लास्टिक युक्त सड़क बनाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।