एसएमसी अध्यापक के लिए बनाई जाए कांट्रैक्ट पॉलिसी
January 31st, 2020 | Post by :- | 183 Views

एसएमसी अध्यापक यूनियन का प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को जिला एसएमसी अध्यापक यूनियन के प्रधान व स्टेट यूनियन के मीडिया प्रभारी अनवर खान की अगुवाई में उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर से मिला। संघ ने एसएमसी अध्यापकों के लिए कॉन्ट्रैक्ट पालिसी बनाने के लिए उद्योगमंत्री  को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती भी मौजूद रहे।

अनवर खान ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में इस समय 2635 एसएमसी शिक्षक सरकारी स्कूलों में सेवाएं दे रहे हैं। जिसमें पीजीटी अध्यापक 775, डीपीई अध्यापक 109, टीजीटी अध्यापक 603, सी एंड वी अध्यापक 993 व जेबीटी के 155 अध्यापक लगातार 8 वर्षो से सेवाएं दे रहें हैं। सभी एसएमसी अध्यापक आरएंडपी नियमानुसार आरटीई के लिए जरूरी सभी शैक्षणिक योग्यता टेट आदि को पूरा करते हैं। साथ ही सभी एसएमसी शिक्षकों की नियुक्तियां शिक्षा उपनिदेशकों की अनुमति पर उपमंडलाधिकारियों की अध्यक्षता में नियुक्त कमेेटी ने की है।

संघ ने मंत्री को बताया कि सरकार ने जो एसएमसी अध्यापकों की जगह 1541 अध्यापकों के पद भरने की अधिसूचना 10 दिसंबर को जारी की हैं, उसे रद्द किया जाए, ताकि एसएमसी अध्यापकों की नौकरी सुरक्षित हो सके। संघ ने कहा की सरकार ने जिस तरह पंजाबी और उर्दू अध्यापकों को कॉन्ट्रैक्ट पालिसी में किया उसी तरह एसएमसी अध्यापकों को भी कॉन्ट्रैक्ट पालिसी में लाया जाए। उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने एसएमसी अध्यापकों की मांगों को ध्यान से सुना तथा बजट में पूरा करने का आश्वासन दिया। इस मौके में उपप्रधान नवदीप, महासचिव चंद्रमोहन, पंकज, अमरजीत, मुकेश व दिनेश समेत अन्य मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।