कोरोना संक्रमित ने दो दिन पहले बांटी थी बच्चों को शिक्षण सामग्री, शोक सभा में भी हुआ था शामिल
April 18th, 2020 | Post by :- | 347 Views

हमीरपुर जिला काेरोना संक्रमित दो मरीज सामने आए हैं। संक्रमित व्यक्ति का जोलसप्पड़ के पास एक निजी स्कूल भी है। यह शख्स डेरा बस्सी से लौटने के बाद घर पर ही था। इसके परिवार के सभी नौ सदस्य उनके साथ रह रहे थे। इनमें उसकी पत्नी, दो बेटे, एक बेटी, माता-पिता, भावी व उनके दो बच्चे शामिल हैं। बताया जा रहा है संक्रमित शख्स का भाई चंडीगढ़ में रहता है और इसके माता-पिता 20 मार्च के आसपास घर आए हैं।

बताया जा रहा है संक्रमित शख्स डेरा बस्सी से दिल्ली से नालागढ़ वाया हमीरपुर बस में लौटा है। यह वही बस है, जिसमें दिल्ली से संक्रमित तब्लीगी जमातियों नेे सफर किया था। उक्त शख्स गांव में लोगों से काफी मिलनसार हैं और हाल ही में उसने स्कूली बच्चों को कॉपिया व अन्य सामान भी वितरित किया था। इसके परिवार के नौ सदस्यों काे प्रशासन ने भोटा अस्पताल में आइसोलेट कर दिया है। बताया जा रहा है संक्रमित शख्स बीते दिनों गांव की एक शोकसभा में भी शामिल हुआ था। दरअसल यह शख्स कोरोना संक्रमण को लेकर बिल्कुल निश्चिंत था।

हमीरपुर की बजूरी पंचायत के वार्ड नंबर सात में वर्षों से यहा किरासे के मकान में रह रही एक महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। अन्य राज्य की यह महिला 5 मार्च को बरेली से हमीरपुर पहुंची थी और हाल ही में उसकी बहू मेडिकल कॉलेज हमीरपुर में प्रसूता हुई है और उक्त महिला बहू के पास भी मेडिकल कॉलेज में इस दौरान जाती रही हैं। परिवार में पति, दो बेटे व एक बेटी उसके साथ रहती है।

वीरवार को जुकाम खांसी के कारण उक्त महिला मेडिकल कॉलेज में दवाएं लेने के लिए गई थी तो अस्पताल प्रशासन की ओर से उसका रैंडम सैंपल लिया हुआ था, जिसकी शुक्रवार देर शाम रिपोर्ट काेरोना पॉजिटिव आई। उक्त महिला को राधा स्वामी अस्पताल भोटा में ले जाया गया है।

उपायुक्त हमीरपुर हरिकेश मीणा के मुताबिक दोनोें पॉजिटिव मामलों को परिवार के सदस्यों व रिश्तेदारों सहित आस पड़ोस व उनकी पिछले कोरोना फैलाने के समय की हर गतिविधि की जानकारी लगाने में पुलिस, स्वास्थ्य विभाग व संबधित पंचायतों के प्रतिनिधियों के सहयोग जुट गया है। हमारे ध्यान में इनकी गतिविधिया आ रही हैं। प्रशासन पूरी तरह सतर्क है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।