सर्वे में सामने आए कोरोना संक्रमित दो युवक, आइसोलेशन में रखा गया
April 8th, 2020 | Post by :- | 211 Views

कोरोना वायरस के खिलाफ मंडी जिला में हो रहे एक्टिव केस फाइंडिंग सर्वे में बद्दी की हेलमेट निर्माता कंपनी में काम करने वाले दो युवक सामने आए हैं। यह वही कंपनी है जिसके एक वरिष्ठ अधिकारी की पत्नी की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है। दोनों  युवकों को जोनल अस्पताल मंडी के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। अस्पताल के भवन को सील कर दिया गया है।

दोनों युवकों के सैंपल डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल टांडा भेजे गए हैं। प्रशासन इन युवकों पर जानकारी छुपाने के कारण एफआइआर दर्ज करवाने की तैयारी कर रहा है। बद्दी में हेलमेट निर्माता कंपनी में कार्यरत ये दोनों युवक गत 24 मार्च को मंडी के बल्ह उपमंडल में अपने घर आ गए थे लेकिन इसकी जानकारी उन्होंने नहीं दी। तीन मार्च से शुरू हुए एक्टिव केस फाइडिंग सर्वे में जब आशा वर्कर इनके घरों में पहुंची तो उन्होंने अपने बद्दी से आने की जानकारी दी। आशा वर्कर द्वारा इनके संबंध में सूचित करने पर स्वास्थ्य विभाग ने दोनों युवकों को मंडी अस्पताल लाकर सैंपल लिए।

दोनों युवकों की प्रारंभिक जांच में किसी बीमारी के लक्षण नहीं पाए गए हैं लेकिन एहतियात बरतते हुए अस्पताल प्रशासन ने भवन को सील किया है। केवल अस्पताल स्टाफ को ही इस भवन में आने की इजाजत दी गई है। हालांकि अधिकारियों की मानें तो कंपनी के कर्मचारी की पत्नी की मौत का मामला सामने आने से पहले ये युवक मंडी पहुंच चुके थे।

कोरोना वायरस की अफवाह से लोग सहमेे 

क्वारंटाइन अवधि पूरी किए बिना बद्दी से मंडी छह लोगों के लौटने से हड़कंप मंच गया है। पुलिस ने मंडी-कुल्लू राष्ट्रीय राजमार्ग पर नाकाबंदी बढ़ाने के अलावा शहर के मुख्यद्वारों पर भी गश्त बढ़ा दी है। वहीं, कोरोना वायरस की अफवाह से मंगलवार को मंडी शहर के लोग सहम गए। कोरोना वायरस से संबंधित अफवाह किसने फैलाई, इसका पता चल नहीं पाया है।

पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने लोगों से आग्रह किया है कि कोराना को लेकर अफवाह न फैलाएं। जनता पुलिस का सहयोग करें। जिला पुलिस ने यह जानकारी अपने फेसबुक पेज पर भी साझा की है ताकि लोग जागरूक रहें। अगर कोई व्यक्ति सोशल मीडिया व अन्य तरीके से कोरोना से संबंधित अफवाह फैलाता है तो उसके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।