कोरोना … बिन दुल्हन बैरंग लौटी बारात …
April 19th, 2020 | Post by :- | 115 Views

गगरेट में अनोखा मामला, कर्फ्यू पास न होने पर पुलिस ने वापस लौटाए दूल्हा और बाराती
गगरेट-ज्योतिष की नजर में अगर किसी जातक की कुंडली में मांगलिक योग हो, तो उसके विवाह में खासी अड़चन आती है, लेकिन यहां एक युवक की कुंडली में कोरोना योग ऐसे बैठा किवह घर से सेहरा लगाकर दुल्हन लेने तो गया, अलबत्ता उसे बिना दुल्हन के ही वापस घर लौटना पड़ा। हालांकि दुल्हन पक्ष ने भी सारी तैयारियां कर रखी थीं और दुल्हन भी सज-धज कर तैयार बैठी थी, लेकिन दूल्हा कर्फ्यू पास न होने के चलते मंडप तक नहीं पहुंच पाया और पुलिस ने उसकी बारात बीच रास्ते से ही बैरंग लौटा दी। उपमंडल गगरेट के अंबोटा गांव के एक युवक की पंजाब के होशियारपुर जिले के आदमवाल गांव की एक युवती के साथ शादी तय हुई थी। वर व वधु पक्ष ने शादी की तारीख तय होने के चलते सारी तैयारियां भी कर लीं और इसी बीच भारत में कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी। इस खतरनाक वायरस को मात देने के लिए देश में लॉकडाउन घोषित हो गया। वर व वधु पक्ष ने यह सोचकर शादी की तारीख आगे नहीं बढ़ाई कि शादी की तारीख इक्कीस दिन का लाकडाउन समाप्त होने के बाद ही है, लेकिन इसी बीच लॉकडाउन तीन मई तक और आगे बढ़ गया। शादी की तैयारियां मुकम्मल कर ली गई थीं, इसलिए वर व वधु पक्ष ने इसे टालना उचित नहीं समझा। तय यह हुआ कि वर पक्ष की ओर से दूल्हे के साथ तीन लोग आएंगे और शादी की रस्में पूरी करके दुल्हन को विदा कर दिया जाएगा। लॉकडाउन के चलते अब बिना पास वाहन लेकर चलना भी वर्जित है। हालांकि प्रशासन द्वारा शादी समारोह के लिए भी सशर्त पास जारी किए जा रहे हैं, लेकिन वर पक्ष ने इसे हलके में लिया। गांव के ही एक व्यक्ति की पास बनवाने के लिए ड्यूटी लगाई गई, लेकिन वह पास बनवाना भूल गया। अब बारात लेकर जाने का समय आ गया, तो दूल्हे को सेहरा बांधकर चार लोग दूल्हे के साथ एक कार में सवार होकर शादी की रस्में निभाने के लिए घर से चल निकले, लेकिन मुश्किल से वे घर से कुछ दूर ही पहुंचे थे, तो पुलिस ने उनकी कार को रोक लिया। जब पुलिस ने उनसे कर्फ्यू पास दिखाने को कहा, तो वे कर्फ्यू पास नहीं दिखा पाए और पुलिस ने उन्हें घर को वापस लौटा दिया। वर व वधु पक्ष काफी मायूस हैं और शादी रचाने के लिए किसी शुभ महूर्त की तलाश की जा रही है। एसएचओ हरनाम सिंह का कहना है कि लॉकडाउन के बीच बिना कर्फ्यू पास किसी को भी किसी भी परिस्थिति में आने-जाने की कोई इजाजत नहीं है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।