CPIM द्वारा सिटीजनशिप अमेंडमेंट एक्ट और एनआरसी के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया गया।
December 19th, 2019 | Post by :- | 123 Views

मोदी सरकार द्वारा यह बिल ऐसे समय में लाया गया है जब देश के अंदर आर्थिक मंदी का दौर है बेरोजगारी पिछले 50 वर्ष में सबसे ज्यादा है महंगाई से जनता त्रस्त है शिक्षा के ऊपर बहुत बड़ा हमला है ।पार्टी का मानना है कि ऐसे समय में ऐसे फालतू बिल लाने की कोई जरूरत नहीं थी उल्टा देश के अंदर रोजगार गारंटी कानून महंगाई दूर करने के लिए सशक्त नीति महिलाओं के ऊपर अत्याचार रोकने को लेकर कठोर कानून व शिक्षा की बेहतरी के लिए बेहतर कदम उठाने की जरूरत है। इन सारे बुनियादी मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए मोदी सरकार द्वारा यह बिल लाया गया है। लेकिन इस बिल के अंदर जिस तरीके से एक विशेष धर्म को निशाना बनाते हुए मोदी सरकार द्वारा सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश की जा रही है उसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पार्टी का मानना है कि अगर नरेंद्र मोदी सरकार इस कानून को वापस नहीं करती है तो पूरे देश में इसके खिलाफ और जबरदस्त तरीके से आंदोलन किए जाएंगे। पूरे देश में इस कानून के विरोध में छात्रों द्वारा विश्वविद्यालय के अंदर विरोध किया जा रहा है, नॉर्थ ईस्ट के अंदर सभी राज्य इस बिल का विरोध कर रहे हैं, और यह बिल कतई भी देश हित में नहीं है। इस प्रदर्शन में पार्टी जिला सचिव जोगिंदर अनिल मनकोटिया, सुरेश राठौर, विवेक राणा, ब्रह्म दास, प्रताप राणा, शकुंतला, प्यारो देवी, जमुना देवी सहित दर्जनों लोगों ने गांधी चौक पर भाग लिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।