जिलास्तरीय रेडक्रास मेले में होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम, लगेंगे स्टाल #news4
April 27th, 2022 | Post by :- | 283 Views

रामपुर बुशहर : रामपुर के पाटबंगला मैदान में सात व आठ मई को आयोजित किए जाने वाले जिलास्तरीय रेडक्रास मेले के लिए उपमंडलाधिकारी सुरेंद्र मोहन ने बुधवार को सभी स्कूल प्रबंधनों के साथ बैठक कर दिशानिर्देश जारी किए। मेले के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम और मेला मैदान में स्कूलों की ओर से स्टाल लगाने पर चर्चा की गई।

एसडीएम ने बताया कि मेले में विभिन्न विभागों की प्रदर्शनियां भी लगाई जाएंगी। लोगों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। इसके लिए एसडीएम ने स्कूल प्रबंधन को अपने कार्यक्रम की सूची कार्यालय को समय पर देने को कहा। इसके अलावा युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए मैराथन और वालीबाल प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा। इसमें एक ड्रीम रन का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने सभी को मेले की रूपरेखा बताई और उनसे सुझाव भी मांगे। उन्होंने स्कूल प्रबंधन को निर्देश दिए कि मेले में झांकी में कम खर्च करें। जिसकी झांकी सबसे सुंदर और प्रेरणादायक होगी, उसे नकद पुरस्कार दिया जाएगा। स्कूल प्रबंधन ने कहा कि स्टाल से जो कमाई होगी, उसमें से सारा खर्च निकाल कर जो पैसा बचेगा, उसे रेडक्रास को दिया जाएगा। इस दौरान कालेज प्राचार्य प्रो. पीसीआर नेगी, खंड प्राथमिक शिक्षा अधिकारी हेमलता जोधटा, पदम स्कूल प्रधानाचार्य प्रवीन गुप्ता, सरोज मेहता, सुषमा मखैक, पीपी दुल्टा, राकेश कुमार, दलीप सोनी, यशपाल सहित सभी स्कूलों के प्रधानाचार्य उपस्थित रहे। पांच मई को कन्या स्कूल में किशोरी मेला

जिलास्तरीय रेडक्रास मेले से पूर्व रामपुर के कन्या स्कूल में किशोरी मेले का आयोजन किया जाएगा। इस मेले में केवल किशोरियों के लिए ही विभिन्न गतिविधियों का आयोजन होगा। एसडीएम ने बताया कि किशोरी मेले में छात्राओं के लिए चित्रकला, नारा लेखन और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं करवाई जाएंगी। ये प्रतियोगिताएं बेटी है अनमोल, क्यों न इसे स्वीकारें हम, आजादी का अमृत महोत्सव, आजादी के लिए संघर्ष, महिला सशक्तीकरण, वूमेन एचीवर, पोषण अभियान और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ विषय पर आधारित होंगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।