सरकाघाट उपमंडल में 3 मई तक जारी रहेगा कर्फ्यू : जफर इकबाल
April 20th, 2020 | Post by :- | 133 Views

सरकाघाट (मंडी) 20अप्रैल- एसडीएम सरकाघाट जफर इक़बाल ने बताया कि कर्फ्यू 3 मई तक जारी रहेगा तथा कर्फ्यू में ढील और इस दौरान की गतिविधियां यथावत रहेंगी तथा कहाकि यदि गतिविधियों में किसी प्रकार का नया परिवर्तन किया जाएगा तो उसकी सूचना प्रशासन द्वारा लोगों को दी जाएगी । लोगों से प्रशासन की सूचना को सुने बिना अपनी तरफ से किसी तरह के कयास नहीं लगाने की अपील की तथा कहाकि अभी रोजाना आवश्यक वस्तुओं की खरीददारी के लिए कर्फ्यू में जो ढील दी जा रही है उसमें भी लोग सोशल डिसटेसिंग की महत्ता को समझें तथा पर्याप्त दूरी बनाए रखें और किसी भी सूरत में घर से बाहर बिना मास्क के नहीं निकले ,मास्क का पहनना अनिवार्य है ताकि कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बचा जा सके। उन्होंनें कहाकि सभी प्रकार की सभाओं, धार्मिक कार्यक्रमों, परिवहन ,निजी वाहनों व टैक्सी सेवाएँ पर पूरी पाबंदी है।एसडीएम जफर इक़बाल ने आज अपने कार्यालय में उपमंडल स्तर के अधिकारियों से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से निपटने के लिए बतैल में आयोजित माक ड्रिल में कमियाँ- खामियों तथा प्रबंधों को और सुदृढ़ बनाने हेतु विस्तृत चर्चा की तथा समबन्धित अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश दिए ताकि किसी भी सम्भावित आपदा से निपटने हेतु पुख्ता प्रबन्ध समय रहते किए जा सकें । एसडीएम ने कहा कि उपमंडल में किसी भी तरह की मनरेगा, पीडब्लयूडी या जल शक्ति विभाग की गतिविधी उनकी स्वीकृति के बिना शुरू नहीं की जाए।

एसडीएम जफर इक़बाल ने लोगों से किसी भी प्रकार की आपात दवाईयों इत्यादि के लिए 1070 टोल फ्री नम्बर का उपयोग करने को तथा उपमंडल पर हेल्पलाइन नम्बर 8629880797 का प्रयोग किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करने के लिए कहा । उन्होंनें लोगों से आग्रह किया कि वे बिल्कुल न घबरायें तथा किसी भी प्रकार की अफवाहों की ओर ध्यान न दें एवं अपुष्ट सूचनाओं से बचें ।
बैठक में डीएसपी चन्द्र पाल सिंह, तहसील दार दीना नाथ व जगदीश चन्द्र, बीडीओ तविन्दर चनोरिया,नायब तहसीलदार बालकृष्ण ,नगर पंचायत अध्यक्ष संदीप वशिष्ठ सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित थे ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।