दलाई लामा बोले, धरती मां पढ़ा रही सार्वभौमिक जिम्मेदारी का पाठ
April 23rd, 2020 | Post by :- | 133 Views

धरती मां हमें सार्वभौमिक जिम्मेदारी का पाठ पढ़ा रही है। यह नीला ग्रह एक रमणीय निवास स्थान है। इसका जीवन ही हमारा जीवन है और इसका भविष्य ही हमारा भविष्य है। असल में पृथ्वी हम सभी के लिए मां की तरह काम करती है। बच्चों के रूप में हम उस पर निर्भर हैं। हम जिस वैश्विक समस्या से गुजर रहे हैं, उसके सामने यह महत्वपूर्ण है कि हम सबको मिलकर काम करना चाहिए।

पृथ्वी दिवस पर विश्वभर के लोगों को संदेश में दलाईलामा ने कहा, हमारा ग्रह अपने लोगों के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है। हम सभी को एकजुटता के साथ आगे आना होगा और पर्यावरण संरक्षण के लिए भी काम करना होगा। बकौल दलाईलामा, उन्होंने पर्यावरण को लेकर चिंता जाहिर की है।

अफसोस की बात है कि आज विश्व में स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता एक बड़ी समस्या है इसलिए हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि दुनियाभर में पर्यावरण स्वच्छ हो ताकि बीमारियों के अनियंत्रित प्रसार को रोका जा सके। जैसा कि हम एक साथ अब कोरोना संकट का सामना कर रहे हैं तो ऐसे में यह जरूरी है कि हम दुनियाभर में अपने कर्मशील भाइयों और बहनों की जरूरतों को पूरा करने के लिए एकजुटता और सहयोग की भावना से कार्य करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।