घर बैठे ही ऑनलाइन बना सकते हैं कई प्रमाण-पत्र: डीसी
August 31st, 2019 | Post by :- | 176 Views

कुल्लू जिला में राजस्व विभाग से संबंधित प्रक्रियाओं का सरलीकरण किया गया है और आम लोगों को कई आॅनलाइन सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने कहा है कि ई-डिस्ट्रिक्ट वेब पोर्टल के माध्यम से आम लोग राजस्व विभाग से संबंधित कई दस्तावेज या प्रमाण-पत्र घर बैठे ही आॅनलाइन बनवा सकते हैं। इनके लिए उन्हें तहसीलदार या पटवारी के पास जाने की आवश्यकता भी नहीं है। शनिवार को जिला परिषद के सम्मेलन कक्ष में जिला के राजस्व अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान उपायुक्त ने यह जानकारी दी। बैठक के दौरान राजस्व मामलों को लेकर व्यापक चर्चा की गई। डा. ऋचा वर्मा ने अधिकारियों से कहा कि वे राजस्व मामलों का अतिशीघ्र निपटारा सुनिश्चित करें और लोगों को ऑनलाइन सुविधाओं का अधिक से अधिक प्रयोग करने के लिए प्रेरित करें। आॅनलाइन सेवाओं के विस्तार से आम लोगों के साथ-साथ राजस्व अधिकारियों को भी काफी राहत मिलेगी। वन अधिकार अधिनियम से संबंधित प्रक्रिया की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कहा कि सभी पंचायतों में ग्राम सभाओं के माध्यम से इस प्रक्रिया को तुरंत पूरा किया जाना चाहिए। वन अधिकार समितियों से संबंधित औपचारिकताओं को पूर्ण करवाने के लिए बीडीओ तथा पंचायतों के जनप्रतिनिधियों का समन्वय स्थापित करें।
उपायुक्त ने कहा कि राजस्व अधिकारी किसान सम्मान निधि और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर से संबंधित रिपोर्ट भी नियमित रूप से प्रेषित करें, क्योंकि केंद्र सरकार इनकी आॅनलाइन निगरानी कर रही है। डा. ऋचा वर्मा ने कहा कि राजस्व अधिकारी अपने क्षेत्र में किसी भी तरह की दुर्घटना, आपदा या किसी अन्य महत्वपूर्ण घटनाक्रम के बारे में तुरंत उन्हें सूचित करें। ऐसी स्थिति में राजस्व अधिकारियों की ओर से दी गई सूचना ही आधिकारिक या पुख्ता मानी जाती है। लिहाजा, इसमें कोई देरी नहीं होनी चाहिए।
बैठक में जिला राजस्व अधिकारी राजेश भंडारी ने विभिन्न मामलों का विस्तृत ब्यौरा पेश किया। एडीएम अक्षय सूद, एसडीएम कुल्लू अनुराग चंद्र शर्मा, एसडीएम मनाली डा. अमित गुलेरिया, एसडीएम बंजार एमआर भारद्वाज, एसडीएम आनी चेत सिंह, सहायक आयुक्त एसपी जसवाल, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी ब्रिजेंद्र डोगरा और सभी तहसीलदार-नायब तहसीलदार भी इस मौके पर उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।