कांगड़ा जिला में 15 अप्रैल से आरंभ होगा फसल की कटाई का कार्य: डीसी
April 12th, 2020 | Post by :- | 428 Views

सभी विकास खंडों के किसानों के लिए आवश्यक हिदायतें भी दीं

कोविड-19 रोकथाम के लिए सभी को प्रोटोकॉल अपनाना होगा:

इन्दौरा, नूरपुर, फतेहपुर एबं नगरोटा सुरियाँ में 15 अप्रैल से होगा कार्य आरंभ
प्रागपुर, रैत, देहरा व काँगड़ा में 20 अप्रैल से
नगरोटा बगवां, धर्मशाला, भवारना, पंचरुखी, लंबागांव, भेड़ू महादेव, बैजनाथ में 25 से
आलू की फसल का कार्य अप्रैल के अंतिम सप्ताह में

धर्मशाला, 12 अप्रैल। जिलादंडाधिकारी कांगड़ा स्थित धर्मशाला राकेश प्रजापति ने जिला में फसल कटाई, गहाई तथा कृषि उपज को मंडियों तक पहुंचाने के लिए आवश्यक आदेश जारी किए हैं। इन आदेशों में सभी विकास खंडों के लिए फसल की कटाई आरंभ करने की अलग अलग तिथियां भी निर्धारित कर दी हैं। प्रथम चरण में पंद्रह अप्रैल, द्वितीय चरण में बीस अप्रैल तथा तृतीय चरण में 25 अप्रैल तथा अंतिम चरण में आलू की फसल निकालने का कार्य अप्रैल के अंतिम सप्ताह में किया जाएगा। फसल कटाई, गहाई का कार्य प्रातः नौ बजे से लेकर सांय छह बजे तक किया जाएगा।
सभी विकास खंडों के लिए निर्देश:
उपायुक्त ने कहा कि सभी विकास खंडों में फसल कटाई के दौरान सामाजिक दूरी तथा मास्क का प्रयोग, हैंडबॉश इत्यादि का विशेष ध्यान रखने के आदेश दिए गए हैं इसके साथ ही संबंधित क्षेत्रों में उपलब्ध संयुक्त मशीन का क्षेत्रवार आवंटन जिला कृषि उपनिदेशक पालमपुर, जिला कांगड़ा द्वारा किया जाएगा। संयुक्त मशीन के आपरेटर, हेल्पर यदि बाहरी अथवा पंजाब क्षेत्र का होगा तो उसका पूर्ण ब्यौरा कार्य आरंभ करने से पूर्व संबंधित कृषि विकास अधिकारी, कृषि प्रसार अधिकारी को उपलब्ध करवाना होगा तथा उसका पूर्ण स्वास्थ्य परीक्षण खंड चिकित्सा अधिकारी द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। जिला कृषि उपनिदेशक, कृषि विकास अधिकारी, कृषि प्रसार अधिकारी तथा खंड चिकित्सा अधिकारी संबंधित उपमंडलाधिकारियों की निगरानी में कार्यों का निष्पादन करेंगे। संयुक्त मशीन मालिकों तथा हेल्परों के रात्रि ठहराव के लिए पृथक प्रबंध किया जाएगा।
प्रत्येक विकास खंड दो इनपुट डीलर्ज की दुकानें खुलेंगी
उपायुक्त ने कहा कि फसल कटाई संबंधी संयुक्त मशीनों, ट्रेक्टर, थ्रेशर इत्यादि की मरम्मत तथा सर्विस के मध्य नजर दो इनपुट डीलर्ज की दुकानें प्रत्येक विकास खं डमें प्रातः आठ से दो बजे दोपहर तक खुली रहेंगी। डीजल तथा पेट्रोल पंप पूर्व निर्देशानुसार कार्य करते रहेंगे। यदि किसी मशीन का पूर्जा वाहरी क्षेत्र से लाना अनिवार्य होगा तो विशेष परमिट प्राप्त करना अनिवार्य होगा। जो कृषि उपनिदेशक पालमपुर अथवा उनके द्वारा अधिकृत अधिकारी द्वारा दिया जा सकेगा। कृषि उपनिदेशक पालमपुर का सम्पर्क न.98160 -25240 रहेगा। फसल कटाई, गहाई व ढुलाई में सम्मिलित वाहन, मशीनें अपने निकटतम पेट्रोल पम्प से ही तेल भरवायेगें एवं निकटतम रिपेयर दुकान से ही कार्य करवायेगे।
कोविड-19 रोकथाम के लिए प्रोटोकॉल अपनाना होगा:
कोविड-19 की रोकथाम का प्रोटोकाँल समस्त किसान वर्ग, मशीन मालिकों, मरम्मत की दुकानों, इनपुट डीलर्ज, पेट्रोल पम्पों को अपनाना आवश्यक होगा व किसी भी प्रकार की अवहेलना के लिए सम्बन्धित पक्ष उत्तरदायी होगा ।
कार्य कर रहे व्यक्ति में बुखार, फ्लू के लक्षण हों तो करें सूचित
फसल कटाई, गहाई, ढुलाई, कम्वाईन मशीन, ट्रेक्टर, थ्रेशर में कार्य कर रहे किसी व्यक्ति में यदि वुखार, फ्लू, सांस लेने में तकलीफ या सुखी खांसी के लक्षण पाये जाते हैं तो कम्वाइन मशीन मालिक, आप्रेटर, ट्रेक्टर, थ्रेशर मालिक अथवा किसान तुरन्त हैल्प लाइन न.104 या 1077 पर फोन पर सूचना देना सुनिश्चित करेगें व किसी भी ऐसे केस को छुपाने या दबाने के लिये कानूनी आधार पर व्यक्तिगत रूप से उतरदायी होगें।
कार्य में बाधा पहुंचाने पर होगी कार्रवाई

कोई भी व्यक्ति यदि उपरोक्त कटाई व ढुलाई सम्वन्धी कार्य का विरोध करता है, बाधा पहुंचाता है, अथवा उपरोक्त निर्देशों को मानने से इन्कार करता है तो ऐसा व्यक्ति भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269 एवं 270 तथा आपदा प्रबन्धन अधिनियम की धारा 51 व 55 के तहत प्रावधानों के अन्तर्गत दण्ड के लिये उतरदायी होगा
इन्दौरा, नूरपुर, फतेहपुर एबं नगरोटा सुरियाँ में 15 अप्रैल से होगा कार्य आरंभ
– इन्दौरा, नूरपुर, फतेहपुर एबं नगरोटा सुरियाँ में गन्दम व अन्य फसल कटाई सम्बन्धी कार्य 15 अप्रैल 2020 से प्रारम्भ माना जायेगा कांगडा जिला के निचले क्षेत्र अर्थात्त नुरपुर, इन्दौरा, फतेहपुर,नगरोटा सूरिया के स्थानीय किसान फसल कटाई सबंधी कार्य की सूचना सम्बन्धित ग्राम पंचायत प्रधान व पटवारी के माध्यम से या सीधे तौर पर सम्वन्धित कृषि विकास अधिकारी अथवा उपमण्डल अधिकारी (नागरिक) को तुरंत फोन या व्हाटऐप पर उपलब्ध करवाएंगे। सूचना प्राप्त होते ही उपरोक्त कृषि अधिकारी, उपमण्डल दण्डाधिकारी सम्बन्धित क्षेत्र में चल रहे फसल कटाई कार्य व कोविड-19 की रोकथाम के लिये अपनाये गये कदमों की निगरानी करेगे प्व तदानुसार आवश्यक वांछित कदम उठा सकेगें।
प्रागपुर, रैत, देहरा व काँगड़ा में 20 अप्रैल से

जिला काँगड़ा की मध्य बेल्ट के 4 विकास खण्डों – प्रागपुर, रैत, देहरा व काँगड़ा में फसल कटाई का कार्य 20-04-2020 से प्रारम्भ माना जावेगा
नगरोटा बगवां, धर्मशाला, भवारना, पंचरुखी, लंबागांव, भेड़ू महादेव व बैजनाथ में 25 अप्रैल से
जिला काँगड़ा के ऊपरी क्षेत्र के 7 विकास खण्डों नगरोटा बगवां, धर्मशाला, भवारना, पंचरुखी, लंबागांव, भेड़ू महादेव(सुलह) व बैजनाथ में कृषि कटाई कार्य 25 अप्रैल,2020 से प्रारम्भ माना जावेगा, जो मुख्यतौर पर किसानों द्वारा स्वयं तथा गहाई कार्य ट्रेक्टर माउंटेड थ्रेशर के माध्यम से ऑपरेटर द्वारा किया जावेगा।

आलू की फसल का कार्य अप्रैल के अंतिम सप्ताह में
काँगड़ा जिला के नगरोटा बगवां विकास खंड व भेड़ू महादेव विकास खंड के कुछ भाग में आलू की फसल तैयार होने के फलस्वरूप आलू निकालने का कार्य अप्रैल माह के अन्तिम सप्ताह से प्रारम्भ माना जायेगा व केवल स्थानीय लोगों वलेबर के माध्यम से ही उक्त कार्य किया जाएगा।
आलू ढुलाई मार्किट तक उपज की ढुलाई के परमिट कृषि उपनिदेशक पालमपुर अथवा उनके द्वारा अधिकृत अधिकारी द्वारा दिये जावेगें

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।