प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए डीसी ऊना को मिला पुरस्कार
February 3rd, 2020 | Post by :- | 183 Views

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना को लागू करने में जिला ऊना देश भर में दूसरे स्थान पर रहा है। इस योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए आज केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने उपायुक्त ऊना संदीप कुमार व जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस सतनाम सिंह को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया।

यह पुरस्कार एक करोड़ से कम आबादी वाले राज्यों की श्रेणी में मिला है। सम्मान समारोह दिल्ली में आयोजित किया गया। अवार्ड मिलने के बाद डीसी संदीप कुमार ने कहा कि इस सफलता का श्रेय जिला की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आंगनबाड़ी सहायिकाओं, सुपरवाइजर्स व विभाग के अधिकारियों का दिया है, जिन्होंने इस योजना को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने कहा कि जिला के आम लोगों के सहयोग से इस योजना का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन हो पाया है।

उन्होंने कहा कि यह सम्मान सितंबर 2017 से लेकर दिसंबर 2019 की अवधि के लिए मिला है। इस अवधि में जिला ऊना में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के 10,419 लाभार्थी पंजीकृत हुए। जिन्हें पहली किश्त के तौर पर 10.57 लाख रुपए, दूसरी किश्त के तौर पर 9.83 लाख रुपए तथा तीसरी किश्त के तौर पर 7.80 लाख रुपए वितरित किए गए।

क्या है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अतंर्गत गर्भवती और स्तनपान करवाने वाली माताओं को पहले बच्चे के जन्म पर 6 हजार रुपए (केंद्र सरकार की ओर से 5 हजार और प्रदेश सरकार की ओर से एक हजार का योगदान) की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। लाभार्थी को सहायता राशि सीधे उनके बैंक अकांउट में ट्रांसफर की जाती है।

योजना के तहत एक हजार रुपए की पहली किश्त गर्भावस्था के पंजीकरण के समय दी जाती है जबकि दूसरी किस्त में छह माह की गर्भावस्था के बाद प्रसवपूर्व जांच कर लेने पर दो हजार रुपए तथा बच्चे के जन्म पंजीकरण और बीसीजी, ओपीवी, डीपीटी और हेपेटाइटिस-बी सहित टीके का चक्र शुरू होने पर तीसरी किश्त दी जाती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।