साहब, पिता कैंसर के मरीज़ हैं, आर्थिक मदद दिला दो
June 17th, 2019 | Post by :- | 193 Views

ऊना – कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के चलोला में आयोजित जन मंच के दौरान एक बेटी ने कैंसर से जूझ रहे अपने पिता को आर्थिक मदद दिलाने का मामला जोर-शोर से उठाया। सीमा देवी ने बताया कि कोटला खुर्द निवासी उसके पिता बलदेव कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। इस संबंध में उनके पिता के मेडिकल बिल उपायुक्त कार्यालय में पहले ही जमा कराए गए हैं, लेकिन अब तक कोई मदद नहीं मिल पाई है। इस पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने उपायुक्त संदीप कुमार को इस मामले में मदद करने के निर्देश दिए। जिस पर उपायुक्त ने पीड़ित परिवार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। समस्या का निपटारा होने पर सीमा देवी ने ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज का धन्यवाद किया।
जनमंच के दौरान ग्राम पंचायत चलोला के निवासी मोहिंदर पाल सिंह तथा अन्य गांववासियों ने गुहार लगाई कि धमांदरी जाने वाली बस का रूट बदलकर वाया नंगल सलांगड़ी किया जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ बस ऑपरेटर महिलाओं को दो किमी दूर ही उतार देते हैं जिससे उन्हें परेशानी होती है। साथ ही ग्रामवासियों ने नंगल सलांगड़ी के लिए एचआरटीसी की बस चलाने का भी आग्रह किया। इस पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज ने आरटीओ को जल्द से जल्द उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
इसके अलावा कोटला खुर्द की राधा रानी ने परिवार का नाम बीपीएल सूची में न होने की शिकायत की। राधा रानी ने कहा कि उनके पति मनरेगा के तहत मज़दूरी करते हैं और उन्हें अपने मकान की मुरम्मत के लिए सरकारी मदद नहीं मिल रही क्योंकि उनका नाम बीपीएल सूची में नहीं है। इस मामले में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को सही स्थिति का पता लगाकर उचित कार्रवाई करने का कहा और ग्रामसभा की अगली बैठक में परिवार का नाम बीपीएल सूची में दर्ज करने को कहा।
जनमंच के दौरान शिवनगर निवासी कृष्ण गोपाल ने अवैध खनन से प्रदूषण का मामला उठाया। कृष्ण गोपाल ने कहा कि शिवनगर टकराला में पर्यावरण प्रदूषण की वजह से बुजुर्गों व बच्चों के स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव पड़ रहा है। इसके अलावा तारकोल के धुएं से वायु प्रदूषण हो रहा है, जिसके कारण स्थानीय गांववासियों का सांस लेना भी मुश्किल हो गया है। समस्या सुनने के बाद ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को तुरंत उचित कार्रवाई के निर्देश दिए।
इसके अलावा जनमंच के दौरान कोटला खुर्द में बने कुष्ठ आश्रय स्थल के प्रांगण को पक्का करने की मांग भी उठी। कुष्ठ आश्रय संस्था के लाल बाबू गोप ने कहा का बारिश का मौसम आने वाला है, ऐसे में आश्रय स्थल के प्रांगण को पक्का किया जाए। इस पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने बताया कि जिला परिषद ऊना के उपाध्यक्ष सोमदत्त इसके लिए ईंटें दान करेंगे और आंगन को पक्का करने के लिए बजट का इंतजाम भी किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।