यूजी परीक्षाओं पर संकट, 14 के बाद फैसला आने की उम्मीद
April 1st, 2020 | Post by :- | 192 Views

प्रदेश भर में विश्वविद्यालय से संबद्ध डिग्री कॉलेजों में अप्रैल माह में प्रस्तावित यूजी परीक्षाओं को समय पर करवाने पर संशय बरकरार है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में लगे कर्फ्यू और सभी शिक्षण संस्थानों और सरकारी कार्यालयों के बंद किए जाने से परीक्षाएं समय पर करना संभव नहीं।  14 अप्रैल तक विश्वविद्यालय भी बंद रहेगा। यूनिवर्सिटी के खुलने के बाद ही विवि प्रशासन परीक्षाएं करवाने पर कोई फैसला ले पाएगा। विश्वविद्यालय से संबद्ध 130 से अधिक कॉलेजों में यूजी कोर्स कर रहे करीब 90 हजार छात्रों की कॉलेज बंद किए जाने के कारण प्रैक्टिकल परीक्षाएं भी अधूरी हैं।

इसके लिए भी विश्वविद्यालय को समय देना पड़ेगा। विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी का कहना है कि सरकार के फैसले के मुताबिक 14 अप्रैल तक विवि को बंद रखा जाएगा। प्रश्नपत्र बनाकर प्रिंटिंग को दिए गए हैं। 14 अप्रैल तक क्या हालात बनते हैं। विश्वविद्यालय खोलने को लेकर जो फैसला होगा उसके मुताबिक आगे की योजना बनाई जाएगी। विवि के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. रणवीर वर्मा का कहना है कि विश्वविद्यालय खुलने के बाद ही स्नातक परीक्षाओं पर कोई फैसला लिया जाएगा।

प्रवेश पर भी लिया जाना है फैसला
हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय की मई माह में पीजी कोर्स में प्रवेश परीक्षाएं भी होती है। इसके लिए अप्रैल माह में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाती थी। इस बार कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए प्रवेश की प्रक्रिया भी देरी से शुरू हो पाएगी। पीजी प्रवेश को यूजी का परिणाम काउंसिलिंग के लिए चाहिए होता है। अगर इसको निकलने में देरी हुई तो पीजी में भी समय से प्रवेश भी नहीं हो सकेगा। विश्वविद्यालय खुलने पर ही पीजी प्रवेश के शेड्यूल को बदलने पर भी फैसला लेना पड़ सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।