कृषि पर निर्भरता हमारी पारम्परिक कृषि के टिकाऊ होने का सबसे बड़ा सबूत: जवाहर ठाकुर
December 25th, 2019 | Post by :- | 150 Views

मंडी, 25 दिसम्बर: द्रंग विधानसभा क्षेत्र के टकोली (स्नोर घाटी) में बुधवार को श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुर्बन मिशन के तहत कृषि जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की 95वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धासुमन भी अर्पित किए गए।
इस अवसर पर द्रंग विधान सभा के विधायक जवाहर ठाकुर ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था शुरू से ही कृषि पर आधारित रही है। आज भी साठ प्रतिशत से अधिक लोग कृषि से ही अपना जीवन निर्वाह करते हैं। कृषि पर हमारी यही निर्भरता हमारी पारम्परिक कृषि के टिकाऊ होने का सबसे बड़ा सबूत है। देश ने आधुनिक कृषि एवं बागवानी में उत्पादकता बढ़ाने में प्रशंसनीय वृद्धि की है। आज हम अनाज उत्पादन में आत्मनिर्भर है फलोत्पादन में विश्व में अग्रणी पंक्ति में तथा सब्जी उत्पादन में दूसरे स्थान पर हैं।
उन्होंने कहा प्रदेश सरकार द्वारा किसानों व बागवानों को आत्म निर्भर बनाने के लिए हर सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं।उन्होंने कृषकों का आहवान् किया कि सरकार द्वारा कृषि के विकास के लिए चलाई जा रही योजनाओं का भरपूर लाभ उठाएं और कृषि से सम्बन्धित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृषि विशेषज्ञों से सीधे सम्पर्क करें।
किसानों की फसलों को जंगली व आवारा पशुओं से बचाने के लिए मुख्यमन्त्री खेत संरक्षण योजना आरम्भ की गई है। जिसके तहत किसानों को सौर ऊर्जा से संचारित बाड़ लगाने के लिए अस्सी प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा है। जबकि तीन या इससे अधिक किसानों को सामूहिक रूप से बाड़ लगाने के लिए पचासी प्रतिशत की वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है। सुरक्षित खेती को बढ़ावा देने के लिए पॉलीहाउस निर्माण पर भी विशेष बल दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ग्रीन हाउस नवीनीकरण योजना के अंतर्गत पांच वर्ष के पश्चात या प्राकृतिक आपदा से क्षतिग्रस्त होने वाले पॉलीशीट को बदलने के लिए प्रदान की जा रही अनुदान राशि को पचास प्रतिशत से बढ़ाकर सहतर प्रतिशत किया गया है।
कृषि उपनिदेशक अजीत सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसल विविधिकरण पर बल दे रही है। सरकार द्वारा शून्य लागत खेती के अंतर्गत प्राकृतिक खेती-खुशहाल किसान योजना आरंभ की गई है। जिसके अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक खेती के बारे में जागरूक करने के लिए प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है।
इस अवसर पर द्रंग भाजपा अध्यक्ष दलीप ठाकुर, पूर्व अध्यक्ष मोहन सिंह, महामंत्री संजय मेहता, राज ठाकुर, उपाध्यक्ष मेहर चंद भारती, युवा मोर्चा उपाध्यक्ष सुनीता चंदू, हरीश कुमार, भाग सिंह, पवन कुमार, जिला परिषद सदस्य सूरज प्रकाश, पंचायत समिति उपाध्यक्ष कपूर चंद, निदेशक कृषि विज्ञान केन्द्र बजौरा एस. के. गुलेरिया, एसएमएस मुंशी ठाकुर, राजेश कुमार, टकोली पंचायत प्रधान शारदा देवी, उप प्रधान सुंदर ठाकुर, कोटाधार पंचायत प्रधान चौने राम, प्रेम चंद, चौहटीगढ़ पंचायत प्रधान प्रेम सिंह, उपप्रधान कोट ढल्यास भेद राम, बीडीसी सदस्य पुष्पा देवी, सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।