देव वाद्ययंत्रों की धुन पर हुआ देव मिलन #news4
March 19th, 2022 | Post by :- | 311 Views

रामपुर बुशहर : रामपुर बुशहर में शनिवार को देवी-देवताओं के स्वागत के साथ जिलास्तरीय फाग मेला शुरू हो गया। दो साल बाद हो रहे इस पारंपरिक मेले में सैकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया और रामपुर शहर देव वाद्ययंत्रों की धुनों से गूंज उठा। इस बार मेले में 20 देवी-देवता शिरकत कर रहे हैं।

नगर परिषद रामपुर की ओर से देवताओं के स्वागत के लिए नगर परिषद अध्यक्ष प्रीति कश्यप, कार्यकारी अधिकारी सूरत नेगी, उपाध्यक्ष अश्वनी नेगी, प्रदीप कुमार, विशेषर लाल, स्वाति बंसल, रोहिताश्व सिंह मेहता, गोविद, कांता, मुस्कान चारस, सुनील नेगी, श्याम लाल गुप्ता उपस्थित रहे।

राज दरबार परिसर में आयोजित किए जाने वाले फाग मेले का दो वर्ष के बाद पूरे विधि-विधान से आयोजन किया जा रहा है। कोरोना महामारी के चलते दो साल तक सूक्ष्म स्तर पर ही इसे आयोजित किया गया था। नगर परिषद ने 21 देवी-देवताओं को मेले के लिए निमंत्रण दिया था, जिनमें 20 के ही पहुंचने की सूचना है। हालांकि इस मेले में कुछ देवता पहली बार तो कुछ कई साल बाद शिरकत कर रहे हैं जोकि सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बने हैं।

जिलास्तरीय फाग मेले में शिरकत करने वाले देवी-देवताओं में देवता साहब गसो, बसाहरू, रचोली, छोटू देवता, शिगला, शनेरी, लालसा, डंसा, दरकाली, कमडाली, खमाडी, सराहन बुशहर, चाटी, बेलू, देवठी और बरांदली हैं। दरबार के मुख्य गेट पर हुआ देवताओं का स्वागत

दरबार के मुख्य गेट पर नगर परिषद की ओर से सभी का स्वागत किया गया और उसके बाद जैसे-जैसे देवी-देवता राजदरबार पहुंचते रहे वैसे अपने चिह्नित स्थान पर बैठते रहे। वहीं इस दौरान देव मिलन का भावुक पल भी देखने को मिला। दो वर्ष से मेला न होने के कारण देवता आपस में नहीं मिले थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।