चिंतपूर्णी में श्रद्धालुओं को जल्द मिल सकती है इलेक्ट्रिक वाहन की सुविधा, ट्रायल सफल
January 7th, 2023 | Post by :- | 61 Views

हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी में शनिवार को इलेक्ट्रिक वाहन (गोल्फ कार्ट) का ट्रायल सफल रहा है। ऐसे में जल्द यहां श्रद्धालुओं को इलेक्ट्रिक वाहन की सुविधा मिल सकती है। वहीं, ट्रायल से पहले ही स्थानीय टैक्सी आपरेटरों ने इसका विरोध किया है। सूबे में इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। इसी कड़ी में चिंतपूर्णी में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए इलेक्ट्रिक वाहन शटल सर्विस के तौर पर चलाने की योजना है।

पूर्व में चार सीटर ई-रिक्शा का ट्रायल किया जा चुका है। जबकि शनिवार को आठ सीटर इलेक्ट्रिक वाहन (गोल्फ कार्ट) का ट्रायल किया गया है। बाबा माई दास सदन से इलेक्ट्रिक वाहन चालक समेत आठ लोगों को लेकर आसानी से मंदिर लिफ्ट तक पहुंचा। इस वाहन में बैठकर खुद एसडीएम अंब डॉ. मदन कुमार ने जायजा लिया। उन्होंने संचालक से वाहन संबंधी पूरी जानकारी हासिल की। ट्रायल के बाद एसडीएम अंब डॉ. मदन कुमार ने वाहन संचालकों को इस वाहन में कुछ चीजें और लगाने को कहा ताकि यात्रियों की सुरक्षा भी बनी रहे। वाहन में हैंडल समेत अन्य चीजें लगाने के लिए कहा गया है। ताकि यात्री बिना किसी असुविधा से इस वाहन में सफर तय कर सके।

18 किलोमीटर प्रति घंटा स्पीड
मंदिर लिफ्ट वाली साइड को पार्क किए इस वाहन को देखने वालों की होड़ लग गई। एक बार चार्ज करने पर 50 से 70 किलोमीटर चलने वाले इस वाहन को अधिकतम 18 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चलाया जा सकता है। खास है कि यह वाहन तीन तरफ से खुला है। ऐसे में इस वाहन में सवार यात्री आसपास के नजारे लेते हुए मंदिर तक पहुंच सकते हैं। वाहन से कोई आवाज या प्रदूषण भी नहीं फैलता है। इलेक्ट्रिक वाहन गोल्फ कार्ट होने के कारण यह श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र रहेगा और सुविधा प्रदान करेगा।
बता दें कि यह इलेक्ट्रिक वाहन बाबा माई दास भवन से मंदिर परिसर तक चलाने की योजना है। इसे संचालित करने के लिए मंदिर न्यास की बैठक में फैसला लिया जाएगा। बैठक में ही किराया, निशुल्क या अन्य को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

चिंतपूर्णी मंदिर में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए आठ सीटर इलेक्ट्रिक वाहन (गोल्फ कार्ट) चलाने का ट्रायल हुआ है। ट्रायल में वाहन का संचालन सही पाया गया है। मंदिर न्यास की बैठक में चर्चाकर वाहन संचालन संबंधी आगामी निर्णय लिए जाएंगे।
-डॉ. मदन कुमार, एसडीएम अंब

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।