धर्मशाला, शाहपुर, देहरा, कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस से टिकट के लिए कई धुरंधर हैं दौड़ में #news4
October 6th, 2022 | Post by :- | 93 Views

धर्मशाला : कांग्रेस टिकट स्‍क्रीनिंग कमेटी की बैठक कल होगी। नेताओं की धुकधुकी बढ़ गई है। टिकट के लिए नेताओं में वर्चस्व की जंग तेज हो गई है। जिला कांगड़ा आबादी के हिसाब से बड़ा जिला है और यहां पर 15 विधानसभा क्षेत्र हैं यहां से 15 विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचते हैं। सरकार बनाने में कांगड़ा का अहम योगदान रहता है। ऐसे में पार्टियां भी इस जिला में ज्यादा दिलचस्पी चुनाव के दौरान ही दिखाते हैं। हालांकि 15 विधानसभा सीटों में कांग्रेस की बात करें तो कांग्रेस के लिए धर्मशाला, शाहपुर व देहरा, कांगड़ा, नूरपुर, इंदौरा, बैजनाथ विधानसभा क्षेत्र सबसे माथापच्ची वाली विधानसभा सीट बनी हुई है। लेकिन ज्यादा घमासान धर्मशाला, कांगड़ा, शाहपुर व देहरा में बना है।

धर्मशाला सीट में यह है हाल

धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा, पूर्व मेयर देवेंद्र जग्गी, पूर्व जिला परिषद सदस्य हरभजन सिंह भज्जी, पूर्व प्रत्याशी विजयइंद्र करण ने आवेदन किया है। वहीं पूर्व मंत्री चंद्रेश कुमारी भी अपनी बहु के लिए पैरवी कर ही हैं। ऐसे में आइसीसी सचिव पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा के नाम पर सहमति न बन पाने के कारण यह विधानसभा सीट भी ज्यादा माथा पच्ची वाली बन गई है। अब स्क्रिनिंग कमेटी की कल होने वाली बैठक में सुधीर शर्मा, देवेंद्र जग्गी, हरभजन भज्जी व विजयइंद्र कर्ण व चंद्रेश कुमारी की बहु में से एक प्रत्याशी तय होगा। ऐसा माना जा रहा है। ऐसे में पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा की राहें भी टिकट के लिए कठिन हो गई हैं। वहीं, धर्मशाला में भाजपा से विशाल नैहरिया, विपिन नैहरिया, राकेश चौधरी, शाश्वत कपूर, संजय शर्मा, सचिन शर्मा, राकेश शर्मा टिकट की दौड़ में है। यहां भी सहमति बनाने के लिए भाजपा को माथापच्ची करने पड़ रही है। मजबूत उम्मीदवार उतारना यहां पार्टी के लिए चुनौती है।

शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में मेजर की मौजूदगी बना रही यह समीकरण

शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में मेजर विजय सिंह मनकोटिया की मौजूदगी समीकरणों को बदलने की क्षमता रखती है। हालांकि बात कांग्रेस की करें तो शाहपुर में कांग्रेस प्रदेश महासचिव केवल सिंह पठानिया व युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष पंकज कुमार पंकू अवरोधक बने हुए हैं। पंकज कुमार पंकू चुनावी बिसात में अन्य कांग्रेस के संभावित उम्मीदवारों पर भारी पड़ रहे हैं। रक्षा डिंपल जसवाल भी यहां से महिला नेत्री की एवज में टिकट की मांग कर रही हैं। मनोज ठाकुर, हंसराज ठाकुर, कर्ण परमार, ओंकार राणा आदि नेता कांग्रेस से टिकट मांग रहे हैं। ऐसे में शाहपुर सीट के लिए घमासान चल रहा है। वहीं, भाजपा की तरफ से मंत्री सरवीण चौधरी यहां पर कांग्रेस के लिए चुनौती हैं।

देहरा विधानसभा क्षेत्र में बढ़ी माथापच्ची

देहरा में कांग्रेस के प्रदेश कोषाध्यक्ष डा. राजेश शर्मा टिकट के दावेदार हैं, वहीं ब्लाक अध्यक्ष हरिदत्त शर्मा भी टिकट की पैरवी कर रहे हैं। कांग्रेस देहरा से धरती पुत्र उतारने की मांग कार्यकर्ता कर रहे हैं। डा. राजेश भी यहां पर लंबे समय से सक्रिय हैं। इस तालमेल को बैठाने के लिए यहां कांग्रेस को टिकट के लिए माथापच्ची करनी पड़ रही है। जबकि भाजपा की तरफ से कौन देहरा का खेवनहार होगा, इसको लेकर भी पेंच फंसा है। रमेश धवाला, रविंद्र रवि में से कौन यहां से भाजपा से उतरेगा अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है।

कांगड़ा कांग्रेस में सुरेंद्र काकू ने बढ़ाया है तापमान

कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस से पूर्व विधायक सुरेंद्र काकू, नीशू मोंगरा टिकट की मांग कर रहे हैं। काकू भाजपा को छोड़ फिर से कांग्रेस में आए हैं। ऐसे में इस सीट के लिए भी माथापची है। वहीं भाजपा की तरफ से पवन काजल हैं। पवन काजल कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए हैं।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।