गोताखोरों ने ढूंढ निकाला कार्तिक का शव, बाइक समेत गोविंद सागर झील में गिरा था युवक #news4
January 20th, 2022 | Post by :- | 119 Views

ऊना  : जिला ऊना के तहत गोविंद सागर झील के लठियानी घाट पर बुधवार शाम पेश आये हादसे में बाइक समेत झील में जा गिरे युवक का शव वीरवार सुबह गोताखोर ने ढूंढ निकाला। बुधवार देर शाम हादसे के कई घंटे बाद भी जब गोविंद सागर झील में गिरे युवक का कोई सुराग नहीं लगा तो पुलिस और प्रशासन की टीमों ने गोताखोरों की मदद लेने का फैसला लिया था। रात ज्यादा होने के चलते भी रेस्क्यू ऑपरेशन को टालना पड़ा था। वहीं वीरवार सुबह करीब 7ः00 बजे गोताखोरों के साथ पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर जुट गई। करीब पौने 3 घंटे की मशक्कत के बाद लगभग 9ः45 पर कार्तिक के शव को गोविंद सागर झील से बाहर निकाला जा सका। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रीजनल हॉस्पिटल ऊना भेज दिया है। घटना के संबंध में मृतक युवक के साथियों से भी पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि बुधवार देर शाम हमीरपुर जिला के बड़सर निवासी 19 वर्षीय कार्तिक पुत्र प्रीतम चंद अपने दो अन्य दोस्तों 19 वर्षीय अर्पण पुत्र कृष्ण सिंह और 18 वर्षीय विवेक पुत्र ओमकार दत्त शर्मा के साथ बाइक पर सवार होकर ऊना जिले के लठियानी पहुंचा था। इस दौरान तीनों युवक बाइक पर घूमते फिरते गोविंद सागर झील के घाट की तरफ निकल आए। घाट पर घूमते घूमते अचानक बाइक अनियंत्रित हो गई और झील की तरफ लुढ़क गई। हादसे के दौरान विवेक जल्दी ही बाइक से गिर गया जबकि अर्पण कुछ दूरी पर जाकर गिरा जिसके चलते वे बुरी तरह घायल हो, लेकिन कार्तिक संभल नहीं पाया और झील में जा गिरा, हालांकि कार्तिक की बाइक झील के किनारे ही गिर पड़ी थी।

दोनों अन्य दोस्तों ने कार्तिक को झील में गिरते देख शोर मचाया जिसके चलते आसपास के लोगों को भी घटना का पता चला। काफी देर खोजने के बावजूद कार्तिक का कोई पता नहीं चल पाया। वही अंधेरा हो जाने के चलते भी रेस्क्यू ऑपरेशन को वीरवार सुबह तक मुल्तवी कर दिया गया। एएसपी ऊना प्रवीण धीमान ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि गोताखोरों की मदद से वीरवार सुबह कार्तिक के शव को जेल से बाहर निकाल लिया गया है जिसे पोस्टमार्टम के लिए रीजनल अस्पताल भेजा जा रहा है। पुलिस ने घटना के संबंध में केस दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।