उपायुक्त से दिव्यांग ने लगाई मदद की गुहार प्री-जनमंच गतिविधियों के तहत तीन पंचायतों का डीसी ने किया दौरा
September 6th, 2019 | Post by :- | 192 Views

ऊना (6 सितंबर)- प्री-जनमंच कार्यक्रमों के दौरान उपायुक्त ऊना संदीप कुमार से नारी चिंतपूर्णी ग्राम पंचायत निवासी दिव्यांग बलवीर कुमार ने चिंतपूर्णी मंदिर ट्रस्ट की ओर से मदद करने की गुहार लगाई। नारी चिंतपूर्णी निवासी बलबीर कुमार ने बताया कि वह दिव्यांग है और घर में एक बुजुर्ग मां साथ रहती है। कमाई का कोई भी साधन न होने की वजह से घर का गुजारा मुश्किल हो रहा है। उपायुक्त ने उसकी बात को ध्यानपूर्वक सुना और चिंतपूर्णी मंदिर ट्रस्ट की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। बलबीर ने बताया कि उसके चार भाई हैं, लेकिन सभी अलग-अलग रहते हैं और पहले तो उसके पास रहने के लिए घर भी नहीं था, लेकिन पंचायत में 1.46 लाख रुपए की आर्थिक मदद प्रदान कर उसे रहने के लिए छत्त प्रदान की। बलबीर ने कहा कि उसकी बुजुर्ग मां को प्रदेश सरकार की ओर से वृद्धावस्था पेंशन भी दी जा रही है, लेकिन इससे घर का खर्च नहीं चलता।
नारी चिंतपूर्णी की दो लड़कियों को किया सम्मानित
नारी चिंतपूर्णी निवासी दीक्षा वर्मा तथा रूपम गौरी को उपायुक्त संदीप कुमार ने प्रोत्साहन राशि के तौर पर 11-11 सौ रुपए प्रदान किए। ऊना उत्कर्ष योजना के तहत इन दोनों लड़कियों के नाम के बोर्ड ग्राम पंचायत कार्यालय पर लगाए गए हैं। दीक्षा वर्मा पेशे से वकील हैं जबकि गौरी रूपम एथलेटिक्स के खिलाड़ी हैं।
इससे पहले नारी चिंतपूर्णी ग्राम पंचायत में डीसी ने सिलाई का काम सीखने वाली लड़कियों से बात भी की। साथ ही पंचायत कार्यालय में बनाए गए जिम के लिए ट्रेनर प्रदान करने का आश्वासन दिया।
ग्राम पंचायत नारी चिंतपूर्णी के प्रधान विजय ठाकुर ने हरिजन बस्ती के लिए 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने पर उपायुक्त का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि रास्ता बनाने का काम प्रगति पर है। इसके अलावा उन्होंने वार्ड नंबर 5 में रास्ते के निर्माण को 3 लाख रुपए तथा वार्ड नंबर 3 में रास्ते के निर्माण के लिए ढाई लाख रुपए देने के लिए उपायुक्त का आभार व्यक्त किया।
10 बस्तियों के लिए रास्ता बनाने की उठाई मांग
इसके बाद उपायुक्त संदीप कुमार ने भटेहड़ ग्राम पंचायत का दौरा किया। भटेहड़ में उपायुक्त संदीप कुमार से ग्राम वासियों ने 10 बस्तियों के लिए रास्ता बनाने की गुहार लगाई। ग्रामवासियों का एक प्रतिनिधिमंडल ग्राम पंचायत कार्यालय में उपायुक्त से मिला और कहा कि रास्ता बनने से 10 बस्तियों को फायदा होगा। इस पर उपायुक्त ने जेई को जल्द से जल्द एस्टीमेट बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 5 लाख रुपए का काम मनरेगा के माध्यम से किया जाएगा और शेष धन राशि वह प्रदान करेंगे।
भटेहड़ से बेहड़ के लिए रास्ते का निरीक्षण किया
उपायुक्त ने भटेहड़ से बेहड़ के लिए रास्ते का निरीक्षण भी किया। गांववासियों ने उन्हें बताया कि खड्ड से होकर गुजरना पड़ता है। इससे पूरे गांव को परेशानी होती है। डीसी ने कहा कि रास्ते के निर्माण के लिए डीपीआर बन चुकी है और अब सरकार से धनराशि प्राप्त होगी, जिसके बाद निर्माण कार्य आरंभ हो चाएगा।
इससे पहले फिर से ग्राम पंचायत छपरोह भी गए और लोगों से बातचीत की। उन्होंने सभी ग्राम पंचायतों में सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी हासिल की। उन्होंने सहारा योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि आदि योजनाओं की वस्तुस्थिति के बारे में अधिकारियों से जानकारी हासिल की और उन्हें इन योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार करने को कहा। उपायुक्त ने कहा कि सरकार की कल्याणकारी नीतियों का लाभ समाज की अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए।
उपायुक्त के साथ एसडीएम अंब तोरुल एस रवीश, बीडीओ अंब अभिषेक मित्तल, ग्राम पंचायत छपरोह के प्रधान नरेंद्र कालिया, ग्राम पंचायत नारी चिंतपूर्णी के प्रधान विजय ठाकुर तथा ग्राम पंचायत भटेहड़ की प्रधान सुषमा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।