24 घंटे कोरोना से जंग लड़ रहे कर्मवीर, पीपीई किट पहनकर भूखे-प्यासे सेवाएं दे रहे डॉक्टर
April 10th, 2020 | Post by :- | 214 Views

कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी हुए आदेश से पूर्व ही जिले में व्यवस्था को पुख्ता बनाने के लिए कमान संभाली थी। दुर्भाग्य यह रहा कि प्रदेश में वायरस से पहली मौत जिला कांगड़ा में ही हुई। तिब्बती मूल के व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने का पता उसकी मौत के बाद चला। पहली मौत के बाद कांगड़ा में दो अन्य भी पॉजिटिव आए पर हौसला कम नहीं हुआ। जिले में पुलिस प्रमुख के साथ पूरी प्रशासनिक टीम के साथ वायरस से निपटने के लिए हर मोर्चे पर आगे रहे। यहां बात हो रही है डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति की।

जिले में लॉकडाउन से पहले ही फ्रंट फुट पर आए डीसी कांगड़ा एक योद्धा की तरह दिन-रात कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। इस कार्य में उनकी टीम व पुलिस का योगदान भी कम नहीं है। फेसबुक पर हर किसी की समस्या का समाधान रोजाना कर रहे हैं। दिन हो या फिर रात सरकार के आदेश ही नहीं, बल्कि आमजन की समस्याओं को भी फेसबुक देखना कहीं कम नहीं है।

पीपीई किट पहनकर आठ घंटे तपस्या

कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का उपचार कर रहे चिकित्सकों व अन्य पैरामेडिकल स्टाफ कड़ी तपस्या कर रहा है। चिकित्सक व अन्य स्टाफ एक अबार पीपीई किट पहनने के बाद आठ घंटे तक बाथरूम तक नहीं जा पा रहे। आठ घंटे बिना खाए पीये मरीजों की सेवा करनी पड़ रही है।

विपदा के समय में हर कोई सक्रिय भूमिका निभा रहा है। लोग नियमों का पालन करें। सभी के सहयोग से ही इस वायरस से पार पाया जा सकता है। जिले में सभी सुविधाएं लोगों को मुहैया करवाई जा रही हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं का भी ख्याल रखा जा रहा है। –राकेश प्रजापति, उपायुक्त कांगड़ा।

हर गतिविधि पर है पैनी नजर

वायरस से बचाव के लिए जिले के सभी कार्यालयों में शारीरिक दूरी बनाने रखने के लिए आदेश जारी हुए हैं। डीसी ने जिले के सभी एसडीएम को लोगों की सुविधाओं का ध्यान रखने सहित उन्हें कफ्यरू पास देने के लिए भले ही अधिकृत किया है लेकिन स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए प्रदेश से बाहर जाने वाले लोगों को विशेष पास देने की बात हो तो प्रतिदिन कार्यालय में सबसे पहले लोगों को यह सुविधा भी ऑनलाइन उनके वाट्सएप नंबरों पर मुहैया करवा रहे हैं। इस कार्य के बाद जिले में चल रही गतिविधियों का जायजा लेते हैं और सभी एसडीएम के साथ हर पल की खबर सहित स्वास्थ्य विभाग के साथ सामंजस्य भी बिठाते हैं।

शारीरिक दूरी का भी रख रहे ध्यान

ऐसे समय में शारीरिक दूरी केवल समाज के लोगों के लिए ही नहीं है। डीसी घर में भी खुद इसका पालन कर रहे हैं। परिवार ही नहीं सरकारी कार्यालयों में इस बात का ध्यान भी वह रख रहे हैं। कार्यालय में होने वाली बैठकों में भी शारीरिक दूरी बनाई जा रही है। कार्यालय के साथ-साथ एसपी के साथ जिले का दौरा भी कर रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।