देहरा के डॉ. चन्द्रशेखर एन. सी. आई. एस. एम. द्वारा मास्टर ट्रेनर के लिए चयनित
March 30th, 2022 | Post by :- | 409 Views

देहरा के डॉ. चन्द्रशेखर एन. सी. आई. एस. एम. द्वारा मास्टर ट्रेनर के लिए चयनित

देहरा, डॉ. चन्द्रशेखर शर्मा (प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष कायचिकित्सा), दयानन्द आयुर्वेदिक कॉलेज जालन्धर, नैशनल कमीश्न फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ मेडिसन, नई दिल्ली, आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा मास्टर ट्रेनर (मुख्य प्रशिक्षक) के रूप में चयनित हुए हैं। देशभर से 60 आयुष शिक्षकों का चयन किया गया है। इनकी ट्रेनिंग यशवंतराव चव्हाण एकेडमी ऑफ डेवलपमेंट एडमिनिस्ट्रेशन (YASHADA) पुणे में आयोजित पाँच दिवसीय (21 से 25 मार्च 2022) कार्यशाला में की गई। यह एकेडमी महाराष्ट्र सरकार का प्रशासनिक प्रशिक्षण संस्थान है। इसका उद्देश्य आयुर्वेद क्षेत्र में उच्चस्तरीय पब्लिकेशनस द्वारा पुरातन चिकित्सा प्रणाली को विश्वभर में जन-जन तक पहुँचाना है। यह 60 आयुष शिक्षकों का मास्टर ट्रेनर पूल देश भर में सभी आयुर्वेद शिक्षकों, स्तानकोत्तर एवं स्नातक छात्रों को अनुसंधान अखण्डता (Research Integrity), उच्चस्तरीय पब्लिकेशन लेखन (Scientific writing), प्रकाशन नैतिकता (Publication Ethics) के बारे में जागरूक करेगा। ताकि शोधकर्ता सुनिश्चित कर पाये कि प्रकाशन के लिए भेजे जाने वाले आलेख किसी भी रूप में एक दूसरे से मिलते जुलते (Plagiarized) न हों। डॉ. चन्द्रशेखर शर्मा एन. सी. आई. एस. एम. के सभी पदाधिकारियों का उनमें विश्वास जताने के लिए हार्दिक धन्यवाद करते हैं। प्रो डॉ चंद्रशेखर शर्मा मूलतः कसवां कोहासन तहसील देहरा जिला कांगड़ा के निवासी हैं, उनके पिता राजिंदर पाल शर्मा हिमाचल प्रदेश सरकार से सेवा निवृत्त हुए हैं और माता सुदेश शर्मा एक कुशल गृहिणी है। पूर्व में प्रो डॉ चंद्रशेखर शर्मा राजीव गांधी आयुर्वेदिक स्नातकोत्तर शिक्षण संस्थान पपरोला के होनहार छात्र रहे हैं। वह इस उपलब्धि का पूरा श्रेय अपने माता-पिता, परिवार, डीएवी मैनेजमेंट कमेटी नई दिल्ली, प्रिंसिपल डॉ संजीव सूद औ समस्त स्टाफ को देते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।