रैबीज का सस्ता इलाज खोजने वाले डॉक्टर ओमेश भारती को मिला पद्मश्री
March 16th, 2019 | Post by :- | 100 Views

रैबीज का सस्ता इलाज खोजने वाले हिमाचल के डॉक्टर ओमेश भारती को पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया गया है। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को राष्ट्रपति भवन में यह पुरस्कार दिया।

ग्रामीण परिवेश की दुश्वारियों को जानने और लोगों से गहरा जुड़ाव होने के कारण ही डॉ. ओमेश भारती आज पद्मश्री तक पहुंचे हैं। मूल रूप से कांगड़ा के ज्वालामुखी के डॉ. ओमेश ने वर्ष 2000 में अपने पड़ोसी को रैबीज से दम तोड़ते देखा।

इस घटना ने उनको झकझोर कर रख दिया। गरीब पड़ोसी के पास रैबीज के इलाज के लिए पैसे तक नहीं थे। इसके बाद उन्होंने महंगे इलाज को सस्ता कराने की ठान ली। एंटी रैबीज पर शोध किया और कड़ी मेहनत से प्रोटोकॉल तैयार किया।

35000 रुपये का इलाज अब 300 में

डॉ. ओमेश ने कुत्तों और बंदरों के काटने के बाद इलाज के लिए एंटी रैबीज प्रोटोकॉल तैयार किया है। यह इतना सस्ता है कि पहले जहां 30 से 35 हजार रुपये में इलाज होता था, वहीं अब प्रोटोकॉल के ईजाद से इलाज मात्र 350 रुपये में हो जाता है। सम्मान समारोह में डॉ. ओमेश की पत्नी अर्चना और बेटा पूरवा शर्मा भी मौजूद रहे।

कुत्तों और बंदरों के रैबीज पर लक्ष्य पूरा होने के बाद अब डॉ. भारती ग्रामीणों की दूसरी बड़ी परेशानी बन चुके सांप के जहर पर काम कर रहे हैं। डॉ. भारती ने कहा कि मुझे लगा कि अगर इलाज सस्ता होता तो मेरा पड़ोसी बच सकता था। इसी वजह ने मुझे ताकत दी कि मैं रैबीज सेे बचाव की प्रक्रिया को बदलने का प्रयास करूं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।