पार्लर बंद के चलते हो रही हैं परेशान? अपनाएं ये टिप्स, घर बैठे ही पाएंगी पार्लर जैसा निखार
April 2nd, 2020 | Post by :- | 230 Views

भारत में कोरोना का असर हर तरफ देखने को मिल रहा है। जहां एक तरफ पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है, वहीं दूसरी ओर हर कोई संक्रमण से खुद को बचाने के लिए घर पर ही सुरक्षित बैठा है। जब बात सौंदर्य निखारने की हो तो इन दिनों सबसे ज्यादा परेशानी का सामना महिलाओं को करना पड़ रहा है। लॉकडाउन के चलते शहर के सभी पार्लर बंद हैं, ऐसे में महिलाएं घर रहकर भी पार्लर जैसा निखार पाने के नए-नए तरीके ढूंढ रही हैं। अगर आप भी उनमें से एक है और घर रहकर ही अपनी त्वचा को चमकता-दमकता दिखाना चाहती हैं तो इन चीज़ों का इस्तेमाल अवश्य करें –

बेसन और कच्चा दूध है फायदेमंद

सबसे पहले कुछ मात्रा बेसन की ले लें। अब इसमें 1-2 टीस्पून कच्चा दूध मिला लें। अच्छे से इस पेस्ट को मिक्स करें और फिर अपने पूरे चेहरे पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। अब 15 मिनट बाद चेहरे को वॉश कर लें। इससे फेस पर ग्लो नज़र आएगा।

एलोवेरा जेल का करें इस्तेमाल

स्किन में ग्लो लाने के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल करें। एलोवेरा जैल में कुछ बूंदें नींबू की मिला लें। अब इस मिश्रण को अच्छे से मिक्स करके अपने पूरे चेहरे पर लगाएं। अब करीब 20-25 मिनट बाद धो लें। यह मिश्रण आपके चेहरे पर निखार ला देगा। इससे पिंपल के दाग भी मिट जाएंगे।

शहद और नींबू का मिश्रण

घर बैठे ही पार्लर जैसा निखार पाने के लिए शहद में कुछ मात्रा नींबू के रस की मिला लें। इस पेस्ट को अच्छे से मिक्स करने के बाद अपने चेहरे पर लगाएं। इसे लगाने के बाद आपकी स्किन चमकती नज़र आएगी।

ओटमील व दही लगाएं

त्वचा पर निखार लाने के लिए ओटमील में दही मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को त्वचा पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। अब कुछ मात्रा गुलाबजल की हाथ में लें और फिर हाथों से अपने फेस क मसाज करें। मसाज करने के बाद पानी से चेहरा साफ कर लें। फर्क नजर आएगा।

गुलाब के फूल व् दूध का पेस्ट

गुलाब के फूलों की पंखुड़ियों को पीस लें। अब इसमें कुछ मात्रा दूध की मिला लें और फिर इस मिश्रण को अच्छे से मिक्स कर लें। इस पेस्ट को चेहरे पर अप्लाई करें। कुछ देर बाद पानी से चेहरे को धो लें। इससे त्वचा में निखार नजर आने लगेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।