धर्मशाला में युद्ध स्मारक तथा युद्ध संग्रहालय के सौंदर्यीकरण के लिए उठाए जाएंगे कारगर कदम #news4
January 10th, 2022 | Post by :- | 50 Views

धर्मशाला : युद्ध स्मारक तथा युद्ध संग्रहालय के सौंदर्यीकरण के लिए कारगर कदम उठाएं जाएंगे। उपायुक्त धर्मशाला में सोमवार को युद्ध संग्रहालय के सभागार में युद्व स्मारक एवं संग्रहालय में चल रहे कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। डा.निपुण जिंदल ने बताया कि युद्ध संग्रहालय नूरपुर का 0.88 हेक्टेयर भूमि का एफसीए की पहली स्टेज की अनुमति भारत सरकार से प्राप्त हो चुकी है। उन्होंने बताया कि युद्ध संग्रहालय के फर्स्ट फलोर की टेंडर प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है और शीघ्र ही इसका कार्य आंरभ कर दिया जाएगा।

उपायुक्त ने बताया कि युद्ध संग्रहालय में सोविनयर शाप का लगभग 90 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया तथा शेष कार्य शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि युद्ध संग्रहालय में वाहनों के लिए उपयुक्त पार्किंग स्थान चिहिन्त करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों का दिशा-निर्देश दिए गए हैं। उपायुक्त ने कहा कि देश और विदेश से युद्व स्मारक तथा युद्व संग्रहालय को देखने के लिए हजारों पर्यटक यहां आते हैं। उन्होंने कहा कि युद्ध संग्रहालय सेना के युद्धों और संघर्षों की शिक्षा एवं देशभक्ति को बढ़ावा देने के लिए ऐतिहासिक महत्व से जुड़ी चीजों के संग्रह, संरक्षण, व्याख्या और सैन्य साजोसामान की प्रदर्शनी करने वाला संस्थान होगा।

इसे एक ऐसी जगह के तौर पर विकसित किया जा रहा है जहां लोग सैनिकों और राष्ट्र की सुरक्षा में किए गए उनके असाधारण प्रयासों के प्रति सम्मान व्यक्त करेंगे। डा जिंदल ने कहा कि युद्ध संग्रहालय में युवाओं तथा आम जनमानस के लिए सेना से जुड़ी विभिन्न जानकारियां भी मिलेंगी। इसमें सेना के युद्वों और संघर्षों की शिक्षा एवं देशभक्ति को बढ़ावा देने के लिए ऐतिहासिक महत्व की चीजों के संग्रह, संरक्षण और सैन्य साजोसमान की झलक भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि युद्व संग्रहालय में सैन्य हथियारों को प्रदर्शित किया जाएगा इसके साथ ही विभिन्न युद्वों की जानकारी भी प्रदर्शित की जाएगी।

उपायुक्त ने कहा कि धर्मशाला के युद्ध संग्रहालय को हिमाचल के भव्य संग्रहालय के रूप में विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि युद्ध स्मारक की साफ सफाई की उचित व्यवस्था की जाएगी इसके साथ ही पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए भी उचित कदम उठाए जाएंगे। इससे पहले उपनिदेशक सैनिक कल्याण विभाग कर्नल केएस चाहल ने युद्व संग्रहालय में चल रहे विभिन्न कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की तथा लंबित कार्यों को समयबद्व पूरा करने के लिए आवश्यक कदम उठाने का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर एडीसी राहुल कुमार, एसडीएम शिल्पी बेक्टा, अधिशाषी अभिंयता लोक निर्माण विभाग सुशील डढ़वाल सहित युद्ध संग्रहालय समिति के गैर सरकारी सदस्य भी उपस्थित थे।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।