लॉकडाउन में शराब की होम डिलीवरी के लिए बना दिया फेसबुक अकाउंट, पुलिस ने की कार्रवाई
April 16th, 2020 | Post by :- | 88 Views

शराब की दुकान के नाम पर फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाने का मामला सामने आया है। इसमें शिमला और मनाली के शराब के ठेके की फोटाे लगाई गई है। पाबंदी के बावजूद शराब की होम डिलीवरी करने के लिए ऑनलाइन पेमेंट की मांग की गई। यह अकाउंट सोशल मीडिया में तैरा तो आबकारी एवं कराधान विभाग और सीआइडी के स्टेट साइबर थाने के मॉनीटिरिंग सेल की नजर पड़ी। इसके आधार पर जांच की गई। जांच में पाया गया कि जाे दो माेबाइल नंबर दिए गए थे, ये राजस्थान के निकले हैं। इस संबंध में शिमला में और कुल्लू के एसपी को पत्र लिखा गया है। इसमें पूरे मामले को वेरीफाइ करने को कहा गया है।

हिमाचल पुलिस का सोशल मिडिया मॉनीटरिंग सेल निरंतर फेक न्यूज पर नजर बनाए हुए है। लॉकडाउन की स्थिति आवश्यक वस्तुओं की होम डिलिवरी करने के नाम पर भी कुछ फेक

मोबाइल नंबर भी सोशल मडिया पर डाले गए हैँ। इसी तरह का एक मामला पकड़ में आया है। शराब की दुकान मनाली व शिमला की फोटो डाली गई। इसके ऊपर दो मोबाइल नंबर 70642-78160 और 82737-73982 डाले गए हैं। ये शराब की होम डिलीवरी के लिए ऑनलाइन पेमेंट करने का प्रलोभन दे रहे हैं। इसके बारे में राज्य साइबर पुलिस स्टेशन शिमला की ओर से जांच की गई तो इन मोबाइल नंबर की लोकेशन राजस्थान की पाई गई। ये अकाउंट भी जाली तौर पर खोला गया है। एएसपी साइबर क्राइम नरवीर राठौर ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने ठगों से सचेत रहने की सलाह दी है।

साइबर पुलिस एसपी की सलाह

साइबर पुलिस लोगों को लगातार जागरूक कर रही है। एएसपी ने कहा वे अपने फेसबुक अकाउंट को अपने मोबाइल नंबर के आधार पर न खोलें और न ही मोबाइल नंबर को पासवर्ड के तौर पर प्रयोग करें, क्योंकि वर्तमान में भी फेसबुक ऑकाउट हैकिंग की शिकायतें मिल रही हैं। इसका प्रयोग साइबर अपराधी ऑनलाईन ठगी के लिए करते हैं लोगों से आग्रह किया वे वर्तमान परिस्थितियों में इंटरनेट का प्रयोग करते समय सतर्क रहें व सुरक्षित रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।