Facebook twitter wp Email affiliates एचएएस मधु चौधरी ने शिक्षा बोर्ड सचिव और महेंद्र प्रताप सिंह ने एसडीम जवाली का कार्यभार संभाला #news4
January 17th, 2022 | Post by :- | 321 Views

धर्मशाला : गत सप्ताह प्रदेश सरकार की ओर से एचएएस अधिकारियों के किए गए तबादलों के बाद सोमवार को जिला कांगड़ा में अधिकतर नए अधिकारियों ने कार्यभार संभालना शुरू कर दिया। नगर निगम धर्मशाला की सहायक आयुक्त से हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड के सचिव पद पर नियुक्त हुईं मधु चौधरी ने कार्यभार संभाल लिया। मधु चौधरी के लिए कोरोना महामारी के खतरे के बीच वार्षिक परीक्षाओं का संचालन करवाने की चुनौती रहेगी।

वर्ष 2006 एचएएस काडर की प्रशानिक अधिकारी मधु चौधरी हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की प्रशासनिक तौर पर दूसरी महिला सचिव हैं। एचएएस राखिल काहलों बोर्ड की पहली सचिव रही हैं। मधु चाैधरी ने कहा प्रदेश में नई शिक्षा नीति को व्यवस्थित तरीके से लागू करना मुख्य कार्य रहेगा। नई शिक्षा नीति के तहत वैदिक गणित शामिल करने को लेकर मंगलवार को बोर्ड की बैठक होगी। बैठक में वैदिक गणित को शामिल करने को लेकर चर्चा होगी। इसके अलावा बच्चों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करना भी मुख्य कार्य होगा।

आइएएस अधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह ने सोमवार को जवाली में बतौर एसडीएम कार्यभार संभाला तथा समस्त स्टाफ के साथ परिचय किया। एसडीएम महेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि जनता की समस्याओं का त्वरित निपटारा करना तथा जनता को न्याय दिलाना प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि जनता भी प्रशासन का सहयोग करे तथा कोरोना से बचाव के लिए सरकार की गाइडलाइन का पालन करे।

उन्होंने वर्ष 2019 में यूपीएससी की परीक्षा पास की तथा काजा में बतौर एसडीएम कार्यभार संभाला। अब वह जवाली में बतौर एसडीएम कार्यभार देखेंगे। महेंद्र प्रताप सिंह का जन्म 15 अगस्त 1983 को संधोल (मंडी) में हुआ। उनके पिता प्रताप सिंह सरकारी ठेकेदार हैं, जबकि माता शुकला देवी गृहिणी हैं। उनकी पत्नी का नाम हेमलता है व उनकी दो बेटियां हैं। एक बेटी दूसरी कक्षा में पढ़ती है, जबकि दूसरी अढ़ाई साल की है।

महेंद्र प्रताप सिंह की प्राइमरी शिक्षा न्‍यू पब्लिक मॉडल स्कूल संधोल से हुई, जबकि दसवीं व जमा दो की पढ़ाई राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला दिल्ली से हुई। उसके बाद नेवी में सर्विस की तथा साथ ही साथ ग्रेजुएशन की व उसके साथ ही यूपीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली और ट्रेनिंग उपरांत काजा में बतौर एसडीएम ज्वाइन किया। दो साल की सर्विस उपरांत अब जवाली में बतौर एसडीएम ज्‍वाइन किया है। उन्होंने कहा कि हर किसी को साथ लेकर कार्य करेंगे तथा जनता की समस्याओं का समाधान करना प्राथमिकता रहेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।