व्यास किनारे कोरोना मरीज के अंतिम संस्कार का झूठा वीडियो Tiktok पर डाला, युवक गिरफ्तार
April 21st, 2020 | Post by :- | 270 Views

टिक टॉक पर भ्रामक प्रचार करने पर ज्वालामुखी पुलिस ने दरीन गांव के एक युवक को गिरफ्तार किया है। एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन के दिशा निर्देश पर डीएसपी ज्वालामुखी तिलक राज ने ये कार्रवाई अमल में लाई है। जानकारी के अनुसार दरीन गांव के एक युवक ने टिक टॉक पर एक वीडियो वायरल किया था, जिस वीडियो में उसने ये दावा किया था कि जिला कांगड़ा में एक कोरोना पॉजिटव व्यक्ति की मौत हो गई है और पुलिस द्वारा उसके शव को नादौन के पास व्यास नदी किनारे जलाया जा रहा है।

इस वीडियो को डालने के साथ ही उक्त आरोपति ने लोगों से इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर व वायरल करने की अपील की थी। वीडियो वायरल होने के बाद जैसे ही पुलिस को इसकी भनक लगी तो पुलिस ने उक्त आरोपित की पड़ताल शुरू की। पुलिस की तहकीकात के दौरान यह युवक दरीन गांव का पाया गया। इस वीडियो के जरिये उक्त युवक ने जहां भ्रामक प्रचार कर लोगों में कोरोना वैश्विक महामारी को लेकर अशांति फैलाने का काम किया।

वहीं कांगड़ा पुलिस के खिलाफ झूठा दुष्प्रचार व उसको बदनाम करने की भी साजिश रची। हालांकि मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएसपी तिलक राज शांडिल ने दो दिन के भीतर ही उक्त आरोपित को ढूंढ निकाला और वीडियो जांच के बाद उसके खिलाफ आगामी कार्रवाई अमल में लाई। पुलिस ने डिजास्टर मैनेजमेंट अधिनियम व आइपीससी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।