15 दिसम्बर तक गेहूं व जौ की फसलों का बीमा करवा सकते हैं किसान : अमित मेहरा #news4
December 8th, 2021 | Post by :- | 324 Views

डल्हौजी : प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना व मौसम आधारित फसल बीमा योजना रबी मौसम 2021 के कार्यान्वयन हेतु जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मेहरा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। इस बैठक के उपरांत उन्होंने बताया कि वर्तमान रबी मौसम में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत 15 दिसंबर तक गेहूं व जौ की फसलों का बीमा किया जाएगा तथा इस कार्य हेतु एग्रीकल्चर इंश्योरैंस कंपनी ऑफ इंडिया को अधिकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि पिछले रबी मौसम में जिला चम्बा के 3799 किसानों ने गेहूं व जाै की फसल का बीमा करवाया था, जिसके लिए किसानों ने 3.93 लाख रुपए का प्रीमियम दिया था। इन फसलों में पिछले वर्ष सूखे की स्थिति से हुए नुक्सान का आकलन करने के वाद यह पाया गया कि जिला में 2635 किसान फसल बीमा के अंतर्गत मुआवजे के लिए योग्य हैं।

इन किसानों को लगभग 23.39 लाख रुपए मुआवजा देने की प्रक्रिया जारी है। इस योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को दिया जाता है जो इसके लिए 15 दिसम्बर से पहले प्रीमियम अदा करते हैं। योजना के अंतर्गत पंजीकृत करवाना बहुत आसान है क्योंकि इस योजना में पंजीकृत करवाने के लिए किसान को केवल अपनी एक फोटो, पहचान पत्र, खेत के खसरा नंबर का सबूत देना होता है जवकि ऋणी किसानों की फसल का बीमा किसान की इच्छा जानने के बाद बैंक द्वारा स्वतः ही कर दिया जाता है।

अमित मेहरा ने कहा कि कृषि विभाग के साथ मिलकर एग्रीकल्चर इन्श्योरैंस कंपनी द्वारा 25 सितम्बर के बाद अब तक चम्बा में 70 किसान जारूकता शिविर लगाए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि गेहूं की फसल का बीमा करवाने के लिए 36 रुपए प्रति बीघा की दर से प्रीमियम देना पड़ता है और यदि प्राकृतिक कारणों से फसल को नुक्सान हो जाए तो नुक्सान का आकलन करने के बाद अधिकतम 2400 रुपए प्रति बीघा की दर से भरपाई की जाती है।

इसी प्रकार जौ की फसल का बीमा करवाने के लिए 30 रुपए प्रति बीघा की दर से प्रीमियम देना पड़ता है और प्राकृतिक कारणों से फसल को नुक्सान होने पर अधिकतम 2000 रुपए प्रति बीघा की दर से भरपाई की जाती है इसलिए सभी किसान किसी भी लोकमित्र केंद्र या जनसेवा केंद्र में जाकर या सीधा पोर्टल के माध्यम से अपनी गेहूं व जौ  की फसलों का बीमा करवा सकते हैं। इस बैठक में उप कृषि निदेशक डॉ. कुलदीप धीमान के अतिरिक्त सुनील कुमार कैथ, जिला राजस्व अधिकारी, साहिल स्वांगला, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड भूपिंदर सिंह, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक डॉ. गौरी शर्मा व एग्रीकल्चर इंश्योरैंस कंपनी से भुवनेश व ऋषि भी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।