लंगर लगाने को प्रतिदिन के हिसाब से लगेगी फीसः डीसी उपायुक्त ऊना संदीप कुमार की अध्यक्षता में लंगर कमेटी के प्रतिनिधियों की हुई बैठक
July 15th, 2019 | Post by :- | 419 Views

ऊना (15 जुलाई)- चिंतपूर्णी में श्रावण अष्टमी मेलों को लेकर लंगर कमेटियों के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने की। बैठक में लंगर कमेटियों के प्रतिनिधियों ने लंगर लगाने के लिए प्रतिदिन के हिसाब से फीस वसूलने की मांग की, जिसे उपायुक्त ने स्वीकार कर लिया। उन्होंने कहा कि लंगर लगाने को 5000 रुपए बतौर सिक्योरिटी जमा करने होंगे और 1000 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से फीस देनी होगी। साथ ही उन्होंने सभी लंगर कमेटियों से नियमों की पालना सुनिश्चित बनाने की अपील की।
बैठक में उपायुक्त ने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने पॉलीथिन व थर्मोकोल पर पूर्ण प्रतिबंध लगा रखा है, ऐसे में लंगर लगाने वाली सभी कमेटियां इस बात का विशेष ध्यान रखें कि पॉलीथिन व थर्मोकोल का कोई भी उत्पाद प्रयोग न करें। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन व थर्मोकोल पर्यावरण के लिए हानिकारक हैं और लंगर कमेटियों को पर्यावरण संरक्षण में प्रशासन के साथ सहयोग करना चाहिए। साथ ही उन्होंने पानी की छोटी बोतलें भी इस्तेमाल न करने की अपील की। उन्होंने कहा कि मेलों के दौरान मंदिर परिसर में जगह-जगह डस्टबीन लगाए जाएंगे और सभी यह सुनिश्चित करें कि कूड़ा कूड़ेदान में ही डालें।
बैठक में एडीसी अरिंदम चौधरी, एसडीएम अंब तोरुल एस रवीश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी ऊना डॉ. रमन शर्मा सहित विभागों के अधिकारियों सहित लंगर कमेटियों के लगभग 70 प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।