लॉकडाउन के बीच कुल्लू से रोहतांग को चलेंगी एचआरटीसी की पांच बसें
April 14th, 2020 | Post by :- | 164 Views

लॉकडाउन के बीच राज्य सरकार ने जनजातीय लोगों को बड़ी राहत दी है। 16 अप्रैल से कुल्लू-मनाली में फंसे जनजातीय क्षेत्र के लोगों को अपने घर भेजा जाएगा। इसके लिए एचआरटीसी की पांच बसों की व्यवस्था की गई है। हर रोज इन बसों से 250 लोग घाटी की तरफ जा सकेंगे। लाहौल जाने से पहले गुलाबा में लोगों की स्वास्थ्य जांच होगी। लाहौल पहुंचने पर फिर से उसी दिन सिस्सू में मेडिकल चेकअप होगा। कृषि मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने बताया कि 16 अप्रैल को मूलिंग से लेकर तिंदी तक जिसमें मयाड़ वैली भी शामिल रहेगी के लोग जा सकेंगे। 17 अप्रैल को भी इन्हीं इलाके के लोगों को कुल्लू-मनाली से लाहौल लाया जाएगा। इसके बाद गाहर, तोद और अंत में चंद्रा घाटी के लोगों को पहुंचाया जाएगा। आवाजाही का पूरा प्रबंधन कुल्लू में तैनात हेलीकॉप्टर समिति संभालेगी। लोगों को हेलीकॉप्टर सीट बुकिंग आवेदन के आधार पर लाहौल भेजा जाएगा। जिन लोगों ने हेलीकॉप्टर के लिए आवेदन नहीं किया था, वे सब लोग उड़ान समिति के पास आधार और वोटर कार्ड के साथ आवेदन कर सकते हैं। मारकंडा ने साफ किया कि यदि कोई लाहौल वासी इस बीच किसी बाहरी मजदूर को अपने साथ घाटी लाने को कोशिश करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी। मारकंडा ने कहा कि स्थानीय लोगों को निकालने के बाद ही घाटी से बाहर फंसे कर्मचारियों को लाहौल पहुंचाया जाएगा। बस सुबह कुल्लू के अखाड़ा स्थित पुराने बस अड्डे से चलेगी।

प्राइवेट बस ऑपरेटरों को मदद देगी सरकार: गोविंद

वहीं, ऊना में प्रदेश निजी बस ऑपरेटर संघ की बैठक वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से प्रधान राजेश पराशर राजू की अध्यक्षता में हुई। बैठक को परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर और निदेशक परिवहन कैप्टन जेएम पठानिया ने संबोधित किया। संघ के प्रदेश महासचिव रमेश कमल ने कहा कि बैठक में परिवहन मंत्री ने आश्वासन दिया है कि जो भी मांगें इस बैठक में निजी बस ऑपरेटरों की ओर से रखी गई है।

उन पर सकारात्मक रुख अपनाया जाएगा। परिवहन मंत्री ने कहा है कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को रोकने के लिए जिस प्रकार से प्रदेश के निजी बस ऑपरेटरों ने अपनी बसों को सैनिटाइज करने और उसके बाद मुख्यमंत्री के आदेश के बावजूद लॉकडाउन में बसें खड़ी कर अपनी भागीदारी सुनिश्चित की। इसके लिए प्रदेश का हर एक निजी बस ऑपरेटर बधाई का पात्र है।

उन्होंने कहा है कि प्रदेश की निजी बस ऑपरेटर का टोकन टैक्स और विशेष पथ कर से संबंधित मसला हो या कोई अन्य इंश्योरेंस तथा बैंक से संबंधित कोई भी मसला हो उसके लिए प्रदेश सरकार निजी बस ऑपरेटर की हर संभव मदद करेगी। उधर, प्रदेश परिवहन विभाग के निदेशक कैप्टन जीएम पठानिया ने कहा है कि निजी बस ऑपरेटरों की हर समस्याओं को निपटाने के लिए परिवहन विभाग निजी बस ऑपरेटर की पूरी मदद करेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।