मनमाने दाम वसूलने पर 12 सब्जी विक्रेताओं के कटे चालान, पांच क्विंटल सब्जी जब्त
April 22nd, 2020 | Post by :- | 180 Views

कोरोना महामारी के बीच लोगों से सब्जी व फलों के मनमाने दाम वसूलना व रेट लिस्ट न लगाना दुकानदारों को महंगा पड़ रहा है। ऐसे दुकानदारों पर शिकंजा कसने के लिए खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग चंबा द्वारा कार्रवाई की जा रही है। अब तक विभाग ने 12 विक्रेताओं के चालान काटकर कुल पांच क्विंटल 94 किलोग्राम सब्जी जब्त की है।

विभाग ने यह कार्रवाई चंबा शहर, रजेरा, धरवाला, बालू, मुगला, करियां, जुलाहकड़ी आदि क्षेत्रों में औचक निरीक्षण के दौरान की है। जब्त की गई सब्जी को 18165 रुपये में बेच कर विभाग ने राजस्व एकत्रित किया है। साथ ही विक्रेताओं को सख्त चेतावनी दी है कि वे प्रशासन द्वारा रोजाना तय किए जा रहे दामों से अधिक न वसूलें और दुकानों के बाहर रेट लिस्ट अवश्य चिपकाएं, अन्यथा उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। सब्जी एवं फलों के उचित दाम भी प्रशासन द्वारा रोजाना सुबह दस बजे तय किए जा रहे हैं। इसके लिए सब्जी विक्रेताओं का एक वाट्सएप ग्रुप भी बनाया गया है, जिसके माध्यम से उन्हें रोजाना निर्धारित दाम अपडेट किए जा रहे हैं।

इसी बीच जिला खाद्य नियंत्रक अर¨वद शर्मा की अगुवाई में निरीक्षक सौरभ वशिष्ट और अभिषेक का दल नियमित रूप से सब्जी विक्रेताओं की दुकानों में दबिश देकर जांच भी कर रहा है। जांच के दौरान दोषी पाए जाने पर विक्रेताओं के विरुद्ध कार्रवाई भी की जा रही है।

दुकानदारों को साफ तौर पर निर्देश जारी किए गए हैं कि तय दाम से अधिक दामों पर सब्जी व फल न बेचें, लेकिन कुछ दुकानदारों द्वारा रेट लिस्ट नहीं लगाई जा रही है। विभाग द्वारा रेट लिस्ट न लगाने पर 12 सब्जी विक्रेताओं के चालान काटे गए हैं। साथ ही 5.94 क्विंटल सब्जी जब्त की गई है, जिसे नीलाम कर दिया गया है।

-अरविंद शर्मा, जिला नियंत्रक खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग चंबा 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।