ज्योति को इंसाफ के लिए हिमाचल किसान सभा ने 89 गांवों में निकाला मोमबत्ती व मशाल जुलूस #news4
August 13th, 2022 | Post by :- | 91 Views

जोगिंद्रनगर : जोगिंद्रनगर विधानसभा क्षेत्र के गडूही गांव के बहुचर्चित ज्योति मौत मामले के एक साल बाद भी सच्चाई सामने न आने पर हिमाचल किसान सभा ने जोगिंद्रनगर के 89 गांवों में मोमबत्ती व मशाल जुलूस निकाल कर मामले की सीबीआई से जांच करवाने की मांग की। गौरतलब है कि बीते 8 अगस्त को भी जोगिंद्रनगर में जिला परिषद सदस्य कुशाल भारद्वाज के आह्वान पर हजारों लोगों ने प्रदर्शन कर ज्योति को इंसाफ दिलाने के लिए तिरंगा यात्रा निकालकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा था। इस दौरान 12 अगस्त को हर गांव में मोमबत्ती एवं मशाल जुलूस निकालने का ऐलान किया गया था। इसके तहत चौंतड़ा, पसल, टिकरी मुशैहरा, बसेहड़, चाहब, भराड़ू, सजेहड़, कुनकर, नागन, सदरेहड़, समोहली, पांडो, पेटू, टिक्कर, अंद्राहलू, मकरीड़ी, ऐहजू, बल्हजोल, मचकेहड़, तरामट, कोहरा, मटरू, घरौण, खजरवाहल, सपैड़ू सहित लगभग 89 गांवों में मशाल जुलूस व मोमबत्ती जुलूस निकाला गया।

दोषियों को सजा दिलाए बिना पीछे नहीं हटेगी हिमाचल किसान सभा
कुशाल भारद्वाज ने कहा कि ज्योति मामले की सच्चाई सामने लाने तथा दोषियों को सजा दिलाने के लिए हिमाचल किसान सभा अपने कदम पीछे नहीं हटाएगी। उन्होंने सरकार से मांग की कि ज्योति केस की सीबीआई जांच करवाई जाए तथा दोषियों को सलाखों के पीछे भेजा जाए। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार नहीं किया गया तो किसान सभा उग्र आंदोलन करेगी जिसकी जिम्मेदारी सरकार व पुलिस प्रशासन की होगी। विभिन्न गांवों में मशाल जुलूस का नेतृत्व कुशाल भारद्वाज, रविंद्र कुमार, नीलम वर्मा, भगत राम, पूर्ण चंद, संतोष कुमारी, प्रीति, वंदना, शिवानी, टेक चंद, रीता, गीता, सुमना, सुरेश कुमार, केहर सिंह, गौरव, नाग सिंह, राजकुमार, मोहन, मीरा, सोनू, सुरजीत, इंदिरा देवी, सुनीता, जगदीश, महेंद्र व पवना ने किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।