विधानसभा चुनाव में पहली बार बैलेट पेपर से HRTC के चालक-परिचालक डालेंगे वोट #news4
October 19th, 2022 | Post by :- | 85 Views

शिमला : इस बार के विधानसभा चुनाव में एचआरटीसी के चालक परिचालक भी वोट डाल सकेंगे। एचआरटीसी  में तैनात करीब 9 हजार ड्राइवरों व कडक्टरों को पहली बार इस विधानसभा चुनावों में बैलेट पेपर के माध्यम से  वोट डालने का अधिकार दिया गया है। इससे पहले सिर्फ वही चालक-परिचालक वोट डाल पाते थे, जो चुनाव डयूटी में तैनात होते थे जबिक अन्य चालक-परिचालकों को बैलेट पेपर के माध्यम से वोट डालने का अधिकार प्राप्त नहीं था। इन्हें वोट डालने के लिए पोलिंग स्टेशन ही जाना होता था। जरूरी सेवाओं में तैनात होने के कारण यह पोलिंग स्टेशन वोट डालने नहीं जा पाते थे, ऐसे में इन्हें वोट डालने के अधिकार से वंचित रहना पड़ता था। इस संबध में एचआरटीसी की संयुक्त समन्वय समिति के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य चुनाव अधिकारी से मिलकर मांग उठाई थी कि एचआरटीसी के सभी चालक-परिचालकों को बैलेट पेपर के माध्यम से वोट डालने का अधिकार दिया जाए। जेसीसी के महासचिव खेमेंद्र गुप्ता ने बताया कि मुख्य चुनाव अधिकारी ने उनकी मांग को पूरा करने की बात कही थी और फॉर्म 12-डी भरकर एचआरटीसी के सभी चालक-परिचालकों को भी बैलेट पेपर के माध्यम से वोट डालने का अधिकार दिया है। वहीं एचआरटीसी की ओर से भी इस संदर्भ में अधिसूचना जारी कर दी गई है।

डीएम व आरएम को मुख्यालय से पत्र जारी
एचआरटीसी के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार की ओर से सभी डीएम व आरएम को पत्र लिखकर आदेश दिए गए हैं कि चुनाव आयोग क आदेशानुसार चालक-परिचालकों को वोट डालने का अधिकार प्रदान करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं। इसके लिए सभी डीएम व आरएम को नोडल अफसर तैनात किया गया है। नोडल अधिकारी सभी चालक-परिचालकों को पोस्टल बैलेट से वोट का अधिकार देने के लिए फॉर्म 12-डी उपलब्ध करवाएंगे। सभी नोडल अधिकारियों को ये आदेश भी दिए गए हैं कि एचआरटीसी का कोई भी कर्मचारी वोट डालने के अधिकार से वंचित न रहे।

यूनिट पर ही डाल पाएंगे वोट 
एचआरटीसी चालक परिचालक अपने यूनिट पर ही पोस्टल बैलेट के माध्यम से वोट डाल लाएंगे। एचआरटीसी के सभी यूनिट पर पोस्टल बेलेट से वोट डालने की सुविधा प्रदान की जाएगी। ऐसे में यह अधिकारी ड्यूटी के साथ-साथ मतदान के अधिकार का प्रयोग भी कर पाएंगे। एचआरटीसी चालक-परिचालकों के वोट डालने से इस बार मतदान प्रतिशतता में भी बढ़ौतरी हो सकती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।