पूर्व CM जयराम ठाकुर ने CM सुक्खू से की मुलाकात, डीप्टी सीएम भी रहे मौजूद #news4
December 27th, 2022 | Post by :- | 70 Views

शिमला: मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से मुलाकात की। यह एक शिष्टाचार मुलाकात हुई। इस दौरान डिप्टी सीएम मुकेश अग्निहोत्री भी मौजूद रहे। जयराम ठाकुर जब से नेता प्रतिपक्ष बने हैं, उसके बाद यह पहली मुलाकात है। मुलाकात के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री व मुख्यमंत्री ने हाथ मिलाए और मुस्कुराए। बता दें कि सत्ता परिवर्तन से पहले मुकेश नेता प्रतिपक्ष थे। उन्होंने इस भूमिका को बखूबी निभाया भी। अब बारी जयराम ठाकुर की है। वह बतौर नेता प्रतिपक्ष कैसी पारी खेलते हैं, शीतकालीन सत्र में उनकी पहली परीक्षा होगी।

मंत्रिमंडल गठन का इंतजार
प्रदेश में सत्ता तो बदल गई पर जनता को अब जल्द ही संपूर्ण सरकार मिलेगी। फिलहाल मंत्रिमंडल गठन का इंतजार है। अभी सत्ता की पूरी कमान सीएम सुखविंदर सुक्खू और डिप्टी सीएम मुकेश अग्निहोत्री के हाथों में हैं। जैसे ही मंत्रिमंडल का गठन होगा, पावर का भी काफी हद तक विकेंद्रीकरण हो जाएगा। गठन के साथ ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच और तीखे वार-पलटवार होंगे। मंत्रिमंडल गठन में जितनी देरी हो रही है, कांग्रेस के वरिष्ठ विधायकों की धुकधुकी उतनी ही बढ़ रही है। मंत्री पद पाने के लिए भागदौड़ खत्म हो गई है। सब आलाकमान से अपनी राजनीतिक गोटियां फिट कर चुके हैं। सबकी निगाहें सुक्खू पर ही टिकी हैं। उनके जहन में पूरी तस्वीर पहले से ही तय है। अब वह हिमाचल के विकास का खाका खींचेंगे। इसमें संगठन से निकलकर सत्ता के शीर्ष पर पहुंचे सरकार के मुखिया की सियासी सूझबूझ की भी परीक्षा होगी।

भ्रष्टाचार पर होगा करारा प्रहार
प्रदेश सरकार के मुखिया ने सत्ता की नई पारी संभालते ही तय कर दिया है कि वह भ्रष्टाचार पर करारा प्रहार करेंगे। उन्होंने कर्मचारी चयन आयोग के कामकाज को निलंबित कर अपने मजबूत इरादे जाहिर कर दिए हैं। पेपर लीक मामलों में आयोग की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आ गई है। हालांकि अभी तक की विजिलैंस जांच में केवल वरिष्ठ अधीक्षक महिला की ही संलिप्तता सामने आई है लेकिन आने वाले दिनों में कई नए तथ्य सामने आ सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।