पूर्व सांसद महेश्वर सिंह माने, निर्दलीय भरा नामांकन लेंगे वापस, तीन घंटे चली बैठक में लिया फैसला #news4
October 28th, 2022 | Post by :- | 87 Views

भाजपा के कद्दावर नेता व पूर्व सांसद महेश्वर सिंह कुल्लू विधानसभा सीट से अब बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव नहीं लडे़ंगे। वह शनिवार को भाजपा प्रत्याशी नरोत्तम ठाकुर के पक्ष में अपना नामांकन वापस लेंगे। शिमला में गुरुवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, सीएम जयराम ठाकुर और पूर्व प्रदेश प्रभारी मंगल पांडे की ओर से मान-मनौव्वल के बाद शुक्रवार को भुंतर के हाथीथान में अपने समर्थकों के साथ बात कर महेश्वर ने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है।  गौर हो कि बंजार से बेटे हितेश्वर के निर्दलीय चुनाव लड़ने पर अटल रहने के चलते भाजपा ने महेश्वर का कुल्लू सीट से टिकट काटकर नरोत्तम ठाकुर को दिया है। इसी से नाराज होकर महेश्वर ने भी बतौर निर्दलीय नामांकन भर दिया था।

नड्डा ने गुरुवार को हेलिकाप्टर भेजकर महेश्वर को कुल्लू से शिमला बुलाकर पीटरहॉफ में मनाने की कोशिश की थी। मुख्यमंत्री और भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रभारी ने भी उन्हें भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में हटने के लिए कहा था। बैठक के बाद महेश्वर ने कहा था कि उनकी चुनाव लड़ने की इच्छा नहीं है, लेकिन कुल्लू में अपने समर्थकों के साथ बात कर ही फैसला लेंगे। शुक्रवार को महेश्वर ने हाथीथान में अपने समर्थकों के साथ बैठक के बाद चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है। महेश्वर ने स्पष्ट किया कि भाजपा हाईकमान से बात हुई है कि अगर उनके साथ जुड़े कार्यकर्ताओं की संगठन और विकास कार्यों में अनदेखी हुई तो यह ठीक नहीं होगा।

अभी बतौर निर्दलीय मैदान में डटे हैं भाजपा से बागी हुए राम सिंह
कुल्लू से अभी भी पार्टी से बगावत कर प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष राम सिंह बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हैं। अब सबकी नजर शनिवार को नामांकन वापसी पर टिकी है।

45 नामांकन रद्द किए गए
विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए दर्ज किए नामांकन पत्रों की छंटनी में 45 नामांकन रद्द किए गए। गत 17 अक्तूबर से नामांकन पत्र भरने शुरू हुए थे और 25 अक्तूबर को नामांकन पत्र दाखिल करने का अंतिम दिन था। अंतिम दिन तक 561 नामांकन दर्ज किए गए। छंटनी के बाद 516 प्रत्याशी मैदान में हैं। अब 29 अक्तूबर को नामांकन वापसी के बाद तस्वीर साफ होगी कि कितने प्रत्याशी चुनावी दंगल में उतरते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।